जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : गांव की बेटियों की अब पढ़ाई खराब नहीं होगी। समस्या को देखते हुए रोडवेज विभाग ने उनके लिए स्पेशल आठ बसें चलाने का फैसला लिया है। यह बसें उनके गांव से कॉलेज तक लेकर आएंगी व जाएंगी। फिलहाल नारायणगढ़ व शहजादपुर के बड़ागढ़ गांव में बने दो कॉलेजों में आने वाली छात्राओं के लिए चलाई गई। इन आठ बसों में रोजाना 381 छात्राएं सफर करेगी जोकि बिल्कुल निशुल्क होगा। पहले चरण में रोडवेज ने 18 जनवरी से चार बसें चलाई, बाकी को मंगलवार से शुरू कर दिया जाएगा। दरअसल, दिसंबर 2019 में मुख्यमंत्री ने उन गांवों में स्पेशल रोडवेज की बसों को चलाने की घोषणा की थी जिनकी लड़कियां कॉलेज तक नहीं पहुंच पाती थी और उनके पास कॉलेज में पहुंचने का रोडवेज बस ही विकल्प थी।

-----------------

पांच जिलों में चलाने का लिया गया फैसला

घोषणा के बाद अंबाला, पंचकूला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र व करनाल इन पांच जिलों के गांवों की छात्राओं के लिए स्पेशल बसें चलाने का निर्णय लिया गया है। चूंकि इन जिलों के कई गांव ऐसे हैं जहां देहात में ही बने कॉलेज में जाने के लिए रोडवेज बस के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं था। इसके चलते उनकी पढ़ाई प्रभावित हो रही थी। छात्राओं की समस्याओं को देखते सरकार ने इन स्पेशल बसों कोस चलाने का फैसला लिया है।

--------------

किसी बस का क्या रहेगा रूट

रूट वन: कालपी से राजकीय महिला कॉलेज बड़ागढ़ गांव शहजादपुर। नोहनी, टमनौली, बधौली, बड़ी बरेड़ी, छोटी बरेड़ी, नेकनावा बक्तुआ रहेगा। वहीं अबूपुर से राजकीय महिला कॉलेज नारायणगढ़ बड़ागढ़ शहजादपुर तथा कुराली, हरबौन, बाकरपुर, आजमपुर, मुन्ने माजरा, बड़ा गांव, ब्रह्मणमाजरा, पंजलासा, नायाणगढ़ कॉलेज रूट रहेगा।

रूट टू: धनाना से राजकीय कॉलेज नारायणगढ़। वहीं पटवी, छज्जू माजरा, जटवाड़, ककड़ माजरा, शहजादपुर व राजकीय कॉलेज नायणगढ़।

रूट थ्री : राजपुरा से राजकीय कॉलेज नारायणगढ़। इसमें कड़ासन, पतरेहड़ी, शहजादपुर, बनौदी, तंदवाल, राजकीय कॉलेज नारायणगढ़। वहीं शहजादपुर से राजकीय नारायणगढ़। वहीं छोटीगढ़ से राजकीय कॉलेज नारायणगढ़। इसमें छोटी बस्सी, बड़ागढ़, बड़ी बस्सी, अकबरपुर, सैन माजरा व राजकीय कॉलेज नारायणगढ़।

रूट फॉर : गोकलगढ़ से राजकीय कॉलेज नारायणगढ़। ठाकुरपुरा, जौली, शकरपूरा-लालपुरा व चानसौली। इसी तरह अंधेरी मिर्जापुर, लखनौरा, खानपुर लबाना, आजमपुर राजकीय नारायणगढ़ रूट रहेगा।

------------------

देहात में बने कॉलेज में जाने वाली छात्राओं को दिक्कतों को देखते हुए आठ बसें चलाने का फैसला लिया है। इनमें केवल छात्राएं ही सफर कर सकती हैं। यहां तक कोई अन्य महिला भी नहीं। इन बसों में छात्राओं की निशुल्क यात्रा होगी। फिलहाल नारायणगढ़ व शहजादपुर के बड़ागढ़ गांव में बने कॉलेजों में पढ़ाने करने आने वाली छात्राओं के लिए लगाई गई है।

-गौरी मिड्डा, महाप्रबंधक।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस