मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, अंबाला : लोकसभा चुनाव में शराब की अवैध तस्करी पर लगाम सुनिश्चित हो सके, इसके तहत जिला प्रशासन की ओर से लिकर मॉनिटरिग सिस्टम एप लांच किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने ऐप की शुरुआत करते हुए बताया कि इस मोबाइल ऐप के माध्यम से शराब फैक्ट्री से निकलने वाले ट्रक की तमाम गतिविधियों के साथ-साथ शराब के ठेके, उनकी रोजाना की बिक्री समेत सभी गतिविधियां ऐप पर उपलब्ध होंगी। यदि कहीं पर शराब की अवैध तस्करी हो रही है तो उस पर मॉनिटरिग रखकर उस पर कार्रवाई की जाएगी।

बराड़ ने बताया कि शराब फैक्ट्रियों पर बेहतर एचडी क्वालिटी के कैमरे लगाने के साथ-साथ शराब फैक्ट्री में रिकॉर्ड भी दुरूस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्वयं शराब फैक्ट्रियों का दौरा कर सम्बन्धित प्रतिनिधियों को आदेशों की पालना करने के निर्देश पहले ही दे दिए थे। प्रशासन ने शराब फैक्ट्रियों में कर्मचारियों व अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है, जोकि 24 घंटे की होगी तथा वहां पर तैनात कर्मचारी जैसे ही शराब फैक्ट्रियों से कोई ट्रक निकलता है तो वह उसकी लाइव फोटो खींचकर इस ऐप पर डालना सुनिश्चित करेगा। ऐप को कार्यालय में बैठकर आसानी से देखा जा सकेगा, वहीं यदि सम्बन्धित ट्रक की मॉनिटरिग करनी है तो वह भी सुनिश्चित हो सकेगी। जितने भी शराब के ठेके हैं, उनकी प्रतिदिन की क्या बिक्री है। अगले दिन की बिक्री के साथ मिलान किया जा सकता है। इससे पता लगाया जा सकता है कि शराब की बिक्री पहले दिन की मुकाबले कितनी ज्यादा है। चुनाव के दौरान शराब की बिक्री ज्यादा होती है। शरणदीप कौर बराड़ ने यह भी बताया कि पुलिस विभाग द्वारा भी शराब फैक्ट्रियों के नजदीक स्थान बदलकर समय-समय पर नाके लगाकर वाहनों पर विशेष निगरानी रखकर कार्रवाई की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप