जागरण संवाददाता, अंबाला : दो दिन के अवकाश के बाद सोमवार को छावनी के नागरिक अस्पताल की ओपीडी शुरू हुई। अस्पताल में डाक्टरों से इलाज कराने और परामर्श लेने के लिए सुबह नौ बजे से मरीज और उसके तीमारदारों की भीड़ जुटने लगी। सुबह 10 बजते-बजते पंजीकरण काउंटर पर रजिस्ट्रेशन की संख्या 400 के पार कर गई। यह आंकड़ा दोपहर दो बजते बजते 12 से अधिक हो गई।

अस्पताल में सोमवार को इलाज कराने पहुंचे मरीजों में अधिकतर फ्लू और वायरल से पीड़ित थे। मरीजों की जांच के बाद चिकित्सकों ने बताया कि सर्वाधिक मरीज वायरल बुखार, खांसी, टायफाइड, डेंगू, मलेरिया से पीड़ित हैं।

----------

अल्ट्रासाउंड की वेटिग पहुंची चार दिन

अस्पताल में अल्ट्रासाउंड करने के लिए मरीजों की वेटिग चार दिन की हो गई। इमरजेंसी और पहले से दाखिल मरीजों का अल्ट्रासाउंड करने में रेडियोलॉजिस्ट प्राथमिकता दे रहे हैं। अल्ट्रासाउंड की वेटिग को देखते हुए अगले पांच पांच दिन की दवा करके जांच करने के लिए चिकित्सकों ने परामर्श दिया।

------------

1200 रही ओपीडी

अस्पताल में इलाज कराने के लिए पहुंचे मरीजों के पंजीकरण संख्या 1200 के पार हो गई। इसमें 200 से अधिक बच्चों का इलाज कराने के लिए बाल रोग विशेषज्ञ के पास। शिशु रोग के लिए सोमवार को अस्पताल की ओपीडी बिल्डिग में डा. गुरमीत, डा. सुरेश और डा. विनीत आए बच्चों की जांच करके दवाएं लिखते हुए परामर्श देते रहे।

------------

वर्जन

मरीजों की सुविधा को देखते हुए अस्पताल में शारीरिक दूरी के नियम का पालन कराते हुए चिकित्सक इलाज कर रहें है। अस्पताल में पंजीकृत सभी मरीजों को नि:शुल्क दवाएं दी जा रही है।

डा. राकेश सहल, पीएमओ अंबाला छावनी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस