संवाद सहयोगी, नारायणगढ़ : चुनाव विभाग के कानूनगो द्वारा बदतमीजी करने का मामला राज्यमंत्री नायब सैनी के खुले दरबार में पहुंच गया। अधिकारी व पीड़ित के बीच हुई हाथापाई पर सिक्योरिटी गार्ड व पुलिस कर्मी ने मौके पर दोनों को संभाला। सैनी ने कानूनगो को लताड़ लगाई और चेतावनी देकर छोड़ दिया।

पीड़ित सर्वजीत जो गांव सपेड़ा का रहने वाला है। उसने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी अनीता शर्मा जो पड़ोस की सिन्ना की वोट बनाने के लिए अंबाला चुनाव कार्यालय में गई थी। जहां पर उनकी वोट बनाने में कानूनगो राजेश आनाकानी करने लगा। राज्यमंत्री का हवाला देने पर वह बदतमीजी से बोलने लगा। चाहे मंत्री के पास चले जाओ काम नहीं होगा। अनिता द्वारा मोबाइल से वीडियो बनने पर अधिकारी ने उसका मोबाइल फोन छीन कर धक्का तक दिया।

सोमवार को राज्यमंत्री नायब सैनी का दरबार लगा हुआ था। जहां पर पीड़ित अनिता का पति दरबार में पत्नी से हुई बदतमीजी की गुहार लगाई। लेकिन अधिकारी ने उल्टा दोष महिला पर मढ़ दिया। पीड़ित सर्वजीत ने गुस्से में गिरेबां तक हाथ डाल दिया। सैनी ने कहा कि अधिकारी आम जन के लिए अपना व्यवहार ठीक रखें।

Posted By: Jagran