जागरण संवाददाता, अंबाला

छावनी के सेनाक्षेत्र स्थित हार्डिंग लाइन में 7 सिख रेजीमेंट के जवान नायक जगमोहन ¨सह ने बृहस्पतिवार देर रात को अपने सरकारी क्वार्टर में पंखे पर फंदा लगा लिया। करीब साढ़े 12 बजे जब पत्नी दूसरे कमरे में गई तो अपने पति को फंदे पर लटका देख शोर मचाया। आसपास के क्वार्टरों में रहने वाले जवानों ने मौके पर पहुंचकर अपने साथी को नीचे उतारा और मिलिट्री अस्पताल में पहुंचाया। लेकिन डॉक्टर ने जवान को मृत घोषित कर दिया। शव को मिलिट्री अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। जवान के सुसाइड करने के कारण अभी तक स्पष्ट नहीं है। मृतक जवान जगमोहन गांव तलवंडी पीओ मेहाना जिला मोगा पंजाब का रहने वाला था।

जानकारी के मुताबिक मृतक जवान जगमोहन अपनी पत्नी कर्मजीत कौर और दो बच्चों के साथ पिछले लंबे समय से हार्डिंग लाइन स्थित क्वार्टर में रह रहा था। वह भारतीय सेना में हॉकी के खेल में नंबर वन गोलकीपर माना जाता था। उसने सेना में कई प्रतियोगिताओं में अपनी 7 सिख रेजीमेंट यूनिट का परचम लहराया। उसकी ड्यूटी छावनी में ही स्थित रेजीमेंट कार्यालय में थी। बृहस्पतिवार देर शाम वह अपना काम खत्म करके यूनिट से सीधे क्वार्टर पर पहुंचा। अपने दोनों बच्चों से खेलने व मस्ती करने के बाद खाना खाया। कुछ देर बाद परिवार सो गया और वह टीवी देखता रहा। करीब सवा 12 बजे जवान की पत्नी कर्मजीत कौर की आंख खुली तो जगमोहन बेड पर नहीं था। वह अपने पति को आवाज लगाती हुई दूसरे कमरे में देखने गई फंदे पर लटका देखा। इसके बाद चीखे निकल गई और आसपास के क्वार्टरों में रहने वाले जवान भी मौके पर पहुंच गए।उन्होंने अपने साथी को नीचे उतारा और तुरंत मिलिट्री अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने के बाद सेना व सिविल पुलिस मौके पर पहुंची। कमरे में कोई सुसाइड नोट नहीं मिला जिससे अभी तक यह कारण स्पष्ट नहीं है कि आखिरकार जवान ने सुसाइड क्यों किया। वहीं इसकी सूचना मिलते ही सुबह उसके गांव से भी परिजनों को तांता लग गया। फिलहाल शव मिलिट्री अस्पताल की मोर्चरी में ही रखवाया गया है। मृतक का पोस्टमार्टम करवाने की कार्रवाई शनिवार सुबह अमल में लाई जाएगी।

Posted By: Jagran