जागरण प्रभाव.. धीमी गति चल रहा पुल का निर्माण, दर्जनों कॉलोनियों के लिए आफत

रेलवे के अटके प्रोजेक्टों पर चर्चा कर मांगी रिपोर्ट जागरण संवाददाता, अंबाला: कालीपलटन पुल के धीमी गति से चल रहे निर्माण कार्य की आखिरकार डीसी शरणदीप कौर ने सुध ली। दर्जनभर कॉलोनियों के लोगों को आ रही परेशानी की खबर दैनिक जागरण में प्रकाशित होने के बाद डीसी ने रेलवे अधिकारियों को तलब किया। मी¨टग में पहुंचे रेलवे के सीनियर डिविजनल इंजीनियर वन बजरंग गोयल व डिवीजनल इंजीनियर एमपी ¨सह से निर्माण कार्य तेजी से न होने का कारण पूछा। कोई संतोषजनक जवाब न मिलने पर उन्हें संबंधित विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर उन्हें कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। बाकायदा निर्माण कार्य की मानीट¨रग के लिए एसडीएम छावनी सुभाष सिहाग की डयूटी लगाई।

बता दें कि दैनिक जागरण ने 6 सितंबर को कालीपलटन पुल का निर्माण कार्य पूरा न होने के कारण लोगों की परेशानी को प्रमुखता से उठाया था। दर्शाया था कि कैसे दर्जनभर कॉलोनियों के लोग व स्कूली छात्र पुल चालू न होने के कारण रेलवे ट्रेक पर से कंधों पर साइकिल रख जान जोखिम में डाल घर पहुंचते हैं। 20 सितंबर तक मांगी रिपोर्ट रेलवे विभाग के अधिकारियों से जनता हित से जुड़े रेलवे के तीन प्रोजेक्टों पर भी डीसी ने सवाल-जवाब किए। छावनी के एसडीएम कार्यालय में बुलाए गए नगर निगम, पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की मौजूदगी में छावनी क्षेत्र के तहत रेलवे के प्रोजेक्टों की रिपोर्ट भी 20 सितंबर तक मांगी। उन्होंने कहा कि इन प्रोजेक्टों के तहत आरओबी बनना है या आरयूबी। उसके लिए रेलवे व लोक निर्माण विभाग व प्रोजेक्टों से जुड़े अधिकारियों सहित संबंधित जगह का मुआयना करते हुए फिजिवल्टी के तहत यहां क्या बन सकता है, इसकी वास्तविक रिपोर्ट दें। अंबाला-दिल्ली रेलमार्ग पर दो प्रोजेक्ट व अंबाला- सहारनपुर रेलवे मार्ग पर एक आरओबी/आरयूबी शामिल हैं। यह अहम प्रोजेक्ट हैं तथा पब्लिक हित से जुडे़ हैं। लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता डीडी कंबोज को इस मामले में कार्रवाई करने बारे कहा। मी¨टग में नगर निगम की संयुक्त आयुक्त मीनाक्षी दहिया, नगर निगम के एमई आरडी धीमान से चर्चा हुई।

Posted By: Jagran