- छावनी के गवर्नमेंट कॉलेज में तैयार हुए चार कमरें तो बाकि कॉलेज में भी बढ़ेगी संख्या

- इलेक्ट्रॉनिक व्हाइट बोर्ड, प्रोजेक्टर व स्पेशलाइज्ड सॉफ्टवेयर से लैस होंगे कमरे अंशु शर्मा, अंबाला

गवर्नमेंट कॉलेजों के अंदर हाईटेक सुविधाएं देने व डिजिटल लर्निंग को बढ़ावा देने की कवायद शुरू हो गई है। कॉलेजों के अंदर स्मार्ट कक्षाएं तो पहले भी हैं। शिक्षा विभाग ने अब उन स्मार्ट कक्षाओं की संख्या को बढ़ाने के लिए निर्देश जारी किए। सभी कॉलेजों में इस फरमान के बाद लगभग स्मार्ट कक्षाओं को बढ़ाने को लेकर तैयारियां शुरू हो गई। इस योजना से कॉलेजों में इंफोर्मेशन कम्यूनिकेशन टेक्नोलॉजी (आईसीटी) को बढ़ावा मिलेगा। क्लासरूम में सीसीटीवी, कंप्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक व्हाइट बोर्ड, प्रोजेक्टर, स्पेशलाइज्ड सॉफ्टवेयर, इंटरेक्टिव ऑडियो-विडियो सिस्टम लगाए जाएंगे। इसकी शुरुआत छावनी के गवर्नमेंट कॉलेज में चार नए कमरे तैयार कर की जा चुकी है।

------- 10 क्लास रूम बनाने के जारी हुए निर्देश

निदेशालय द्वारा जारी निर्देशानुसार 10 क्लास रूम ओर बनाने के निर्देश जारी हुए है। हालांकि छावनी के गवर्नमेंट कॉलेज में बाकायदा बजट जारी हो चुका है। बाकि कॉलेजों के अंदर कॉलेज फंड से स्मार्ट क्लास रूम को बनाने के लिए विचार विमर्श किया जा रहा। वह निदेशालय के निर्देशों का पालन कर सकें। दरअसल, छावनी, शहर, साहा, नारायणगढ़ में पहले भी स्मार्ट कक्षाएं तो हैं मगर उनकी संख्या को जरूरत के अनुसार बढ़ाना होगा।

------

गवर्नमेंट कॉलेज छावनी में 6 लाख से तैयार होंगी कक्षाएं

स्मार्ट कक्षाओं की संख्या बढ़ाने के निर्देश आने के बाद छावनी के गवर्नमेंट कॉलेज में तैयारी शुरू हो गई। बाकायदा चार कक्षाओं को स्मार्ट कक्षाओं का रूप दिया जा रहा। जिसमें हाइटेक तकनीक का इस्तेमाल होगा। छह लाख का बजट जारी होने के बाद सामान की खरीददारी शुरू हो गई। यह कक्षाएं कॉलेज के अंदर मॉस कम्यूनिकेशन, ज्योग्राफी, कंप्यूटर साइंस व कॉमर्स ब्लॉक में तैयार की जा रही। बता दें कि कॉलेज में पहले भी एक स्मार्ट रूम बना हुआ है। चूंकि चार नए कमरे ओर तैयार हो रहे तो इन कक्षाओं की संख्या पांच हो जाएगी।

------- स्मार्ट कक्षाओं को बढ़ाने के निर्देश मिले हैं। छह लाख का बजट भी जारी हो चुका। कॉलेज के अंदर चार कमरों को स्मार्ट कक्षाओं में बदला जाएगा। इसके लिए कॉलेज में काम भी शुरू हो गया है। जल्द ही छात्र नई स्मार्ट कक्षाओं में पढ़ाई करेंगे।

प्रो. पूनम वत्स, प्राचार्य, गवर्नमेंट कॉलेज छावनी।

Posted By: Jagran