- छावनी की रंगिया मंडी में देर शाम को हुआ झगड़ने से कॉलोनी में तनाव की स्थिति

जागरण संवाददाता, अंबाला : रंगिया मंडी में गली में खेलते-खेलते 5 वर्षीय बच्ची महक उर्फ नोनी और 4 वर्षीय किशोर श्याम सुंदर झगड़ा गया। किशोर का आरोप है कि बच्ची ने उसे साइकिल से टक्कर मारी और बच्ची की मां का आरोप है कि किशोर ने उसकी बच्ची को पत्थर मारा। हकीकत क्या है कि यह तो पुलिस की जांच का विषय है लेकिन बच्चों की लड़ाई में 11 लोग जख्मी हो गए हैं। देर शाम को इलाज के लिए सभी नागरिक अस्पताल में पहुंचे। इस मामले में दोनों पक्ष पड़ाव थाना पुलिस के पास पहुंचे और अपनी-अपनी शिकायतें दी है जिसके आधार पर पुलिस जांच में जुट गई है।

14 वर्षीय घायल किशोर श्याम सुंदर ने बताया कि शाम को वह गली में खड़ा था तो नोनी ने साइकिल चलाते हुए उसे टक्कर मार दी। इसकी शिकायत करने के लिए वह बच्ची नोनी के घर पर पहुंच गया। आरोप है कि बच्ची की मां पूनम ने उसके साथ झगड़ा किया। इसी बीच पूनम के भाई अजय और हन्नी ने उस पर तलवार से हमला कर दिया। तलवार उसकी बाजू पर लगी और उसके बाद घर की तरफ दौड़ कर आया गया और अपनी ताई नीलम ने जब बाजू से खून देखा तो वह घबरा गए। किशोर ने आरोप लगाया है कि इसके बाद बच्ची नोनी के परिजनों ने उन पर हमला बोल दिया। इसमें 45 वर्षीय राज कुमार, 19 वर्षीय गोपाल, 47 वर्षीय विजय कुमार, सुभाष, 19 वर्षीय राहुल, 13 वर्षीय साक्षी को चोटें आई हैं। रंगिया मंडी में झगड़े के बाद काफी तनाव की स्थिति पैदा हो गई।

------------

किशोर ने मारा था पत्थर

उधर, नोनी की मां पूनम ने आरोप लगाया है कि उसकी बेटी महक गली में खेल रही थी और श्यामा ने उसे पहले पत्थर मारा था। बच्चों की इसी पर बात झगड़ा हो गया और दूसरे पक्ष ने उनके साथ मारपीट की है जिसमें हन्नी, अजय, अर्चना और पूनम को चोटें आई हैं। हन्नी ने बताया कि वह बीडी फ्लोर मिल के पीछे अपनी दुकान करता है और वह तो घर पर ही नहीं था। घर वालों ने फोन करके झगड़े की सूचना दी तो वह मौके पर पहुंचा। दूसरे पक्ष ने जाते ही उस पर हमला कर दिया।

Posted By: Jagran