संवाद सहयोगी, साहा : बुधवार को तेपला स्थित कृषि विज्ञान केंद्र परिसर में किसान मेले का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में डीसी विक्रम सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। कृषि से संबंधित स्टाल व विभिन्न कंपनियों द्वारा भी अपने-अपने स्टाल लगाये गए, जिसका मुख्य अतिथि ने अवलोकन किया व मौके पर उपस्थित कर्मचारियों से स्टाल के माध्यम से किसानों को दी जा रही जानकारी बारे भी उनसे पूछा। जिन किसानों ने पराली प्रबंधन को लेकर बेहतर कार्य किया है, ऐसे किसानों को मुख्य अतिथि ने स्मृति चिन्ह देकर उनका अभिनंदन किया। यहां पहुंचने पर कृषि विज्ञान केन्द्र की वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. उपासना सिंह व उनके स्टाफ ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह देकर उनका अभिनंदन किया।

डीसी ने किसानों से आहवान किया कि वे अपनी पारंपरिक खेती के अलावा फसलों के विविधिकरण की नीति को अपनाएं, अन्य फसलों का भी उत्पादन करके वह अपनी आमदन को बढ़ा सकते हैं। जिन किसानों ने इस क्षेत्र में अच्छा कार्य किया है वे उनसे प्रेरणा लें। उन्होंने किसानों से बातचीत की और जानकारी ली कि वे किस तरह से फसलों का उत्पादन कर रहे हैं। चुडियाला के निवर्तमान सरपंच तेजिन्द्र सिंह, सपेड़ा से सुखविन्द्र सिंह, शाहबाद के छपरा गांव निवासी स्वामी, खुड्डा कलां से बृजपाल राणा, घसीटपुर निवासी एवं खिलाड़ी अभिषेक राणा, नन्यौला निवासी अमरीक सिंह, दुखेडी निवासी राज करण ने खेती, पराली प्रबंधन आदि पर डीसी को जानकारी दी। डीसी ने कहा कि अन्य लोगों को भी चाहिए कि वो पराली प्रबंधन सीखें और अमल में लाएं। इस मौके पर डा. राजेन्द्र सिंह, धीरेन्द्र सिंह, जिला मत्स्य अधिकारी रवि भाठला, आईपीआरओ धर्मेंद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran