जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : बिजली निगम ने भविष्य में बेहतर बिजली आपूर्ति का प्लान तैयार किया है। इसके लिए निगम ने शहर में नए फीडर, ट्रांसफार्मर और नीचे लटके बिजली के तारों को बदलने के लिए सर्वे कराया है। इसके तहत 13 नए फीडर, 125 नए ट्रांसफार्मरों और तारों को बदलने का काम शुरू होगा। इसके लिए मुख्यालय से मंजूरी मिलते ही काम शुरू होगा।

मालूम हो कि गर्मी में बिजली की खपत दोगुना हो जाती है। जिले में सामान्य दिनों में बिजली की खपत 50 से 55 लाख यूनिट रोजाना खर्च होती है जबकि भीषण गर्मी में 107 लाख यूनिट रोज खर्च होती है। इस वजह से कालोनी और मुख्य बाजार के 11 केवी फीडर ओवरलोड हो जाते हैं। इस वजह से फीडर के ट्रिप करने की समस्या बढ़ जाती है। गर्मी में ट्रांसफार्मर ओवरलोड होने से फूंक जाते हैं। इस वजह से उपभोक्ताओं को 4 से 5 घंटे तक की बिजली कटौती झेलनी पड़ती है। बिजली निगम ने उपभोक्ताओं की समस्याओं को दूर करने के लिए शहर में ओवरलोड ट्रांसफार्मरों और फीडर के लिए सर्वे कराया था।

सर्वे में ओवरलोड फीडरों को संतुलन के लिए 13 नए फीडर और 125 नए ट्रांसफार्मरों लगाए जाएंगे। इसमें ट्रांसफार्मर के लिए बलदेव नगर, शिवालिक कालोनी, शालीमार कालोनी, जग्गी कालोनी, जंडली, प्रीत कालोनी, कलाल माजरी, सद्दोपुर, मनमोहन नगर आदि में ट्रांसफार्मर के लिए सर्वे किया है। इन कालोनी में नीचे लटके बिजली के तार बदलने का काम भी किया है। बिजली निगम ने नए ट्रांसफार्मर और फीडर का प्रस्ताव मुख्यालय को भेजा है। यहां से मंजूरी मिलते ही ट्रांसफार्मर और 11 केवी लाइन के फीडर के लिए काम शुरू होगा।

इस संबंध में एक्सईएन सुखबीर सिंह ने बताया कि बिजली निगम ने भविष्य की प्लानिग के लिए प्लान तैयार किया है। इसमें नए फीडर और ट्रांसफार्मर लगाने का काम किया जाएगा।

------------------------ यहां पर नए फीडर के लिए सर्व किया

बिजली निगम ने दुर्गा नगर, सेक्टर-9, 10, सुल्तानपुर, सिविल लाइन, मंडौर, सेक्टर-एक, जंगौली, देवी नगर, नन्यौला आदि में सर्वे कराया हैं। इसमें भविष्य की प्लानिग को देखते हुए सर्वे किया है। इसमें देखा गया है कि हर साल कितने नए उपभोक्ता बिजली निगम में जुड़ते हैं। इसके हिसाब से नए फीडर तैयार किए हैं।

Edited By: Jagran