जागरण संवाददाता, अंबाला : डीसी अशोक कुमार शर्मा ने बुधवार को अर्बन स्ट्रीट वेंडरों के संबंध में बैठक करते हुए संबंधित एजेंसी को पंजीकृत वेंडरों को प्रोविजनल सर्टिफिकेट/स्मार्ट आईडी कार्ड जारी करने के निर्देश दिए। इसके बाद रेहड़ी/फड़ी वालों को भारत सरकार द्वारा चलाई गई पीएम स्वनिधि स्कीम का लाभ मिलेगा।

अंबाला कैंट में स्ट्रीट वेंडर संबंधी एक कंपनी रूद्रा अभिषेक प्राइवेट लिमिटड कंपनी को सर्वे करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे। रिपोर्ट के आधार पर 1534 वेंडरों में से 899 वेंडरों को स्वीकृति प्रदान की गई है। उपायुक्त ने कंपनी के प्रतिनिधियों को निर्देश दिया कि वे इन वेंडरों को तुरंत कार्ड इश्यू करें। इसके अतिरिक्त उन्होंने लीड बैंक मैनेजर डीके गुप्ता को भी निर्देश दिया कि जितने भी पंजीकृत लाभार्थियों ने पीएम स्वनिधि स्कीम के तहत ऑनलाइन आवेदन दिए हैं उनको निर्धारित मापदंडों के तहत प्राथमिकता के आधार पर स्वीकृति देना सुनिश्चित करें। इस कार्य के लिए बैंक शाखाओं को निर्देश भी जारी करें।

उन्होंने यह भी बताया कि पीएम स्वनिधि स्कीम के तहत स्ट्रीट वेंडरों (रेहड़ी/फड़ी) को प्रारंभिक कार्य करने हेतु 10 हजार रुपये ऋण बिना गारंटी के प्रदान किया जाता है। यह ऋण समय पर/समय से पहले लौटाने पर सात प्रतिशत ब्याज की दर से सब्सिडी दी जाती है। इस मौके पर एसडीएम अंबाला कैंट सुभाष चंद्र सिहाग, नगराधीश अशोक कुमार, ईओ नगर परिषद विनोद नेहरा, सचिव राजेश कुमार, रवि पाहवा आदि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021