संवाद सहयोगी, नारायणगढ़: कार्यालय में छुट्टी के दिन शनिवार को डिप्टी डीईओ सुधीर कालड़ा ने नारायणगढ़ के राजकीय माध्यमिक व प्राथमिक विद्यालय रायपुर वीरान में बच्चों के साथ टाट पट्टी पर बैठकर मिड-डे-मिल का स्वाद चखा। बच्चों ने अधिकारी को बताया कि विद्यालय में अध्यापक और पीटीआई हैं लेकिन कोई खेल का मैदान नहीं है। वह पढ़ते तो रहते हैं लेकिन खेल बिल्कुल नहीं पाते। अधिकारी ने विद्यालय में चारों ओर नजर दौड़ाई, जहां विद्यालय का प्रांगण छोटा था। उन्होंने बच्चों से पूछा कि विद्यालय के आसपास कोई खाली मैदान है। बच्चों ने कहा कि पास में अंबेडकर भवन का मैदान उनके खेलने के लिए काफी है। यह सुनते ही डिप्टी डीईओ ने निर्देश दिए विद्यालय प्रबंधन समिति का एक प्रस्ताव खंड शिक्षा अधिकारी की अनुशंसा के साथ श्री अंबेडकर भवन की प्रबंधन समिति को भेज दिया जाए। कालड़ा ने पुलाव को चख कर भी देखा और पुलाव में सब्जियां कम थी तो उन्होंने मिड डे मील का कार्य देख रहे स्वयं सहायता समूह की प्रधान राजेश कुमारी और विद्यालय मुखिया सुरजीत कौर को नसीहत तक दी। कालड़ा ने बच्चों से विभिन्न विषयों पर प्रश्न भी किये और ब्लैक बोर्ड पर गणित के सवाल भी हल करवा कर देखे। वह दूसरी कक्षा में यह देखकर बड़े हैरान हुए कि जैसे ही कोई बच्चा गणित के सवाल को सही हल करता है तो बा़की बच्चे तालियों के साथ उसका उत्साहवर्धन करते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस