जागरण संवाददाता, अंबाला : प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने अंबाला छावनी के रेस्ट हाउस में लोगों की समस्याएं सुनी। इस दौरान जनता दरबार में फरियादियों की भीड़ उमड़ी, चार घंटे में करीब 500 लोगों ने अपना दुखड़ा रोया। इस दौरान जहां पुलिस विभाग की सबसे अधिक शिकायतें आईं, जबकि कई लोग आर्थिक मदद के लिए भी पहुंचे। इस दौरान लोगों की पीड़ा सुनकर कुछ को आर्थिक मदद देने का भी ऐलान किया। महेशनगर की एक विवाहिता अपने ससुरालजनों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। इस पर उन्होंने पुलिस को तत्काल मदद करने का निर्देश दिया।

शिकायत पर अनिल विज का कार्रवाई के लिए लिखी चिट्ठी जब जाती है तो सब ठीक हो जाता है। लोग घबराएं नहीं उनकी शिकायतों पर कार्रवाई नियमानुसार होगी और उन्हें न्याय भी मिलेगा। जो भी शिकायत की कार्रवाई में ढील बरतेगा उसे बक्शा नही जायेगा। हम सभी सम्बन्धित पर पैनी नजर रखते हैं।

--------

बॉक्स:

नौकरी की नहीं चलती सिफारिश पर

गृहमंत्री ने इस मौके पर यह भी कहा कि भाजपा सरकार में नौकरी योग्यता के हिसाब से मिलती है। योग्य उम्मीदवारों को नौकरी देने का काम किया जा रहा है। भाजपा सरकार ने नौकरी के मामले में बेहतर कार्य किया है। योग्य उम्मीदवारों को नौकरी मिलने पर उनके सपने साकार हुए हैं। पूर्व की सरकारों में नौकरी के नाम पर जो खर्ची, पर्ची चलती थी उस पर वर्तमान सरकार ने पूरी तरह से नकेल कसी है।

-----------------

बाक्स

फाइलों को शीघ्रता से निपटाने में रखता हूं विश्वास

गृह एंव स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने खुले दरबार में एक जबाब में कहा कि मैं फाइलों को शीघ्रता से निपटाने में विश्वास रखता हूं शीघ्रता से किए गए कार्य प्रार्थी को राहत देने का काम करते है और मुझे भी लोगों की समस्याओं और शिकायतों को निपटा कर आत्म संतोष की अनुभूति होती है कि मैं जनसेवा के कार्य में लगा हूं ।

Edited By: Jagran