जागरण संवाददाता, अंबाला

चंडीगढ़ से लखनऊ जाने वाली ट्रेन नंबर 12232 में बुधवार को यात्रियों की टिकट चेक करते एक नकली टीटीई को असली टीटीई ने पकड़ लिया। जब नकली टीटीई से उसके दस्तावेज और आइडी कार्ड मांगा गया तो उसके पास कुछ भी नहीं मिल सका। इस नकली कर्मी को ट्रेन सहारनपुर पहुंचने के बाद आरपीएफ व सहारनपुर के हवाले कर दिया गया। सहारनपुर जीआरपी थाने में नकली टीटीई के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया।

हुआ यूं कि चंडीगढ़ से लखनऊ ट्रेन जा रही थी। ट्रेन के एस-3 कोच में बिना वर्दी के एक व्यक्ति यात्रियों की टिकट चेक कर रहा था। इसी दौरान एक यात्री को शक हुआ तो उसने ट्रेन में मौजूद एक अन्य रेलकर्मी को इसकी सूचना दी। कुछ देर बाद ही अन्य कोच से डिप्टी सीटीआई परवीन कुमार ने मौके पर पहुंचकर उक्त व्यक्ति को पकड़ लिया और उसके पास से यात्रियों की टिकट चेक करने का कारण पूछा। उसने खुद को टीटीई बताया। इसके बाद ट्रेन सहारनपुर पहुंचते ही उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया जहां उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई।

Posted By: Jagran