जागरण संवाददाता, अंबाला : माल रोड छावनी पर रहने वाले फौजी सुरेश ने ओएलएक्स पर रॉयल इन्फील्ड बुलेट मोटरसाइकिल देखी और पंसद आने पर उसे देखने का मन बना लिया। इसके बाद बुलेट मालिक से फोन पर बातचीत कर 1.25 लाख में सौदा भी तय हो गया। मालिक ने गूगल पे के जरिए पेमेंट करने पर बुलेट को सरकारी डाक के जरिए उसे घर पर डिलीवर करने की लालच दिया। लेकिन पेमेंट के बाद उसके पास बुलेट नहीं पहुंची तो मामले की शिकायत तोपखाना चौकी पुलिस को दी है।

कैंट थाना पुलिस ने फौजी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को दी शिकायत में सुरेश ने बताया कि वह मूलरूप से कर्नाटक के जिला बीदर के गांव आंउर का रहने वाला है और अंबाला छावनी में आर्मी में पोस्टिग हैं। चार मई को उसने ओएलएक्स पर बुलेट देखी जो उसे पंसद आ गई। जब उसने दिए गए मोबाइल नंबर पर फोन किया तो उसने मुझे कहा कि वह भी आर्मी है और उसका ट्रांसफर भी जम्मू में हो गया है। इसीलिए वह उसे मोटरसाइकिल सरकारी डाक के जरिए भेज देगा। फौजी सुरेश नकली फौजी बने ठग की बातों में आ गया और उसके बताए गए गूगल पे नंबर पर उक्त राशि ट्रांसफार्मर कर दी। 6 दिन बीत जाने पर भी बुलेट नहीं मिली है। इसीलिए पुलिस ने फौजी की शिकायत पर धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप