जागरण संवाददाता, हरिद्वार

गंगनहर में मिला शव अंबाला में ¨सचाई विभाग में कार्यरत एसडीओ का था। पुलिस के मुताबिक, एसडीओ ने पारिवारिक कलह के कारण हरिद्वार में गंगनहर में कूदकर आत्महत्या की। एसडीओ ने अपने एक मित्र को इस बारे में बताया था। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस के मुताबिक, 31 अगस्त को भारी बारिश के चलते गंगनहर में सिल्ट आने के कारण मायापुर से गंगनहर को बंद किया गया था। पानी सूखने पर गंगनहर में विश्वकर्मा घाट कनखल के पास एक युवक का शव मिला था। युवक के चेहरे पर चोट के निशान दिखाई दे रहे थे। शिनाख्त न होने पर पुलिस ने शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया था। वहीं, अंबाला से लापता हुए युवक के परिजन तलाशते हुए हरिद्वार पहुंचे। उन्होंने रविवार को शव की शिनाख्त पीयूष सिंह (32) पुत्र निर्मल ¨सह निवासी सेक्टर-10, अंबाला के तौर पर की। पीयूष सिंचाई विभाग में थे और पांच दिन से लापता चल रहे थे। कनखल थाना प्रभारी भूषण ने बताया कि हालांकि कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है, लेकिन परिजनों ने पीयूष के मानसिक रुप से परेशान होने की जानकारी दी है।

Posted By: Jagran