जागरण संवाददाता, अंबाला : आनलाइन ठगी के मामलों में कमी आती नहीं दिख रही है। अब एक व्यक्ति को शातिर ने फौजी बनकर ठग लिया। उसे इस तरह से झांसे में लिया कि शक तक नहीं हुआ। अब अंबाला कैंट थाना पुलिस ने चौधरी ट्रांसपोर्ट के संचालक अर्जुन कुमार की शिकायत पर मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है। इस शिकायत की प्रतिलिपि प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज को भी सौंपी गई है।

शिकायत में अर्जुन ने बताया कि चौधरी ट्रांसपोर्ट के नाम से गांधी मार्केट में आफिस है। उनके पास एक काल आई, जिसने अपने आप को फौजी बताया। शातिर ने कहा कि उसे आगरा के लिए गाड़ी चाहिए। इस पर किराया 18 हजार रुपये बता दिया। काल करने वाले ने बताया कि उसे कहां पर गाड़ी चाहिए। बताए गए स्थान पर गाड़ी भेज दी। अर्जुन ने बताया कि शातिर ने कहा कि उसे पेटीए अथवा गूगल-पे का नंबर दे दो, जिस पर वह किराया भेज देगा। उसे बताया कि वह पेटीएम व गूगल-पे का इस्तेमाल नहीं करता। इसी दौरान एक कस्टमर लखविदर सिंह आ गया। उसने लखविदर का स्टेट बैंक आफ इंडिया का खाता नंबर दे दिया। शातिर ने उसे विश्वास में लेने के लिए कुछ रुपये ट्रांसफर किए। फिर कहा कि 18 हजार रुपये डालने के लिए खाते में दोगुना रुपये जमा होने चाहिए। इसके बाद लखविदर के खाते से चार बार में 72 हजार रुपये की राशि निकल गई। अपने स्तर पर पता किया तो जानकारी मिली कि यह रकम एमेजन पे से निकले हैं, जो एक निजी बैंक से लिक है। खाताधारक का नाम दीपंजन दत्ता है। शातिर को बाद में काल भी की, लेकिन उसका मोबाइल नंबर बंद मिला। पुलिस ने मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran