संवाद सहयोगी, शहजादपुर

कस्बा के मुख्य बस स्टैंड के नजदीक लगे एसबीआई एटीएम बि¨ल्डग में सेंध लगा एटीएम तोड़ नकदी चुराने का प्रयास किया। न तो बैंक और न ही एटीएम की देखभाल करने वाली एजेंसी ने कोई सिक्योरिटी गार्ड रखा हुआ है।

जानकारी अनुसार शहजादपुर-अंबाला मार्ग पर मुख्य बस स्टैंड के नजदीक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम लगा हुआ है, जिसमें मंगल रात को चारों ने दीवार में सेंध लगा एटीएम को तोड़कर नकदी चुराने की कोशिश की। एटीएम खोलने व बंद करने वाले चमन लाल नामक व्यक्ति ने बताया कि वह उक्त एसबीआई के एटीएम को बंद व खोलने की ड्यूटी करता है। उसने बताया कि मंगलवार की देर शाम एटीएम को सही तरीके से बंद कर घर चला गया था। बुधवार की सुबह जब लगभग छह बजे एटीएम के शटर का ताला खोला तो अंदर का हाल देखकर दंग रह गया। चमन ने बताया कि यहां पर लगी दो एटीएम मशीनों में से एक मशीन टूटी हुई थी। जब अंदर जा कर देखा तो भवन की पिछली दीवार को किसी ने एक जगह से तोड़ा हुआ था। जिस पर सुपरवाइजर अमनप्रीत को इसकी सूचना दी और एटीएम को दोबारा बंद कर दिया। इसी बीच किसी ने इसकी घटना की सूचना पुलिस को दे दी जिस पर सूचना मिलते ही पुलिस ने वारदात स्थल का दौरा किया और ¨फगर¨प्रट विशेषज्ञों को बुला जांच करवाई। सुपरवाइजर अमनप्रीत ने बताया कि नकदी चुराने की कशिश की सूचना मिली थी, कंपनी के एरिया मैनेजर देवेंद्र को बता दिया। ए टीएमएम में कैमरे काम नहीं कर रहे हैं और मशीन में लगे कैमरे काम कर रहे हैं या नहीं उन्हें मालूम नहीं है। थाना प्रभारी चन्द्र प्रकाश ने वारदात की पुष्टि करते हुए बताया कि कोई भी लिखित शिकायत नहीं आई है फिर भी सूचना मिलते ही पुलिस ने अपने कार्रवाई शुरू कर दी है और मौके पर सीन ऑफ क्राइम की टीम को बुला कर मौके की जांच करवाई है।

Posted By: Jagran