जागरण संवाददाता, अंबाला : कोरोना की दूसरी लहर थम चुकी है और अब तीसरी लहर की आशंका के चलते स्वास्थ्य विभाग तैयारियों में जुट गया है। इसके लिए वैक्सीनेशन जहां सबसे बड़ा हथियार है, वहीं इंडस्ट्री और फैक्ट्रियों में काम करने वाले कामगारों को वैक्सीनेट करने की प्लानिग है। इसके साथ ही उन निजी अस्पतालों और क्लीनिक पर शिकंजा कसने की भी तैयारी की जा रही है, जहां पर स्टाफ को वैक्सीन नहीं लगी। इसी को लेकर डीसी विक्रम सिंह के साथ मीटिग हुई है, जिसमें इस पर चर्चा हुई है।

अब स्वास्थ्य विभाग फिर से डिमांड पर कैंप लगाने जा रहा है। इसके लिए 25 से 50 लोगों का ग्रुप यदि वैक्सीनेशन कैंप लगाना चाहता है, तो इसके लिए मोबाइल नंबर 7082303976 पर आवेदन कर सकता है। उनका शेड्यूल तय कर उनके बताए स्थान पर स्वास्थ्य विभाग कैंप लगाएगा। दूसरी ओर निजी अस्पताल के चिकित्सकों व क्लीनिक चलाने वाले डाक्टरों को भी निर्देश दे दिए गए हैं कि वे अपने स्टाफ को वैक्सीन लगवाएं। यदि स्टाफ को वैक्सीन नहीं लगी होगी, तो उनके खिलाफ दी एपिडेमिक डिसी•ा एक्ट 1897 के तहत कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग जिला में वैक्सीनेशन सेंटर पर तो टीका लगा ही रहा है, जबकि अब इससे हटकर भी कैंप लगाएगा।

---------------- इस तरह से है अभी तक आंकड़ा

जिले में कुल संक्रमित : 30009

रिवकर हुए मरीज : 29404

कोरोना से मौत : 505

कुल सैंपल : 461219 (388765 आरटीपीसीआर व 72454 एंटीजन टेस्टिग किट)

वैक्सीनेशन किया : 5683879

मृत्यु दर : 1.65 प्रतिशत -------------- कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने में टीका एक मजबूत सुरक्षा कवच है। टीकाकरण के कार्य के तहत उद्योगों में काम करने वाले लोगों को भी वैक्सीनेट किया जा सके, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

- विक्रम सिंह, डीसी अंबाला

-------------- स्वास्थ्य विभाग डिमांड के अनुसार कैंप लगाए। इसके लिए 50 या इससे अधिक लोग मोबाइल नंबर 7082303976 पर आवेदन कर सकता है। विभाग उनके बताए स्थान पर कैंप लगाकर लोगों को वैक्सीनेट करेगा।

- डा. कुलदीप सिंह, सीएमओ अंबाला

Edited By: Jagran