जागरण संवाददाता, अंबाला : दिल्ली-अंबाला नेशनल हाईवे पर मानवता फिर शर्मशार हुई। डीआरएम कार्यालय के पास फॉरचूनर गाड़ी ने हाईवे क्रॉस कर रहे अनिल कुमार को टक्कर मार दी। टक्कर लगने से वह ग्रिल से टकराया और उसी के साथ में पूरी रात दर्द से कहराता रहा। घर न पहुंचने पर परिजन जहां उसे रात भर इधर-उधर ढूंढते रहे तो वहीं हाईवे से गुजरी सैकड़ों की तादाद में किसी भी वाहन चालक की नजर घायल पर नहीं पड़ी। इसीलिए तड़फ-तड़फ तक रविवार सुबह तक अनिल ने दम तोड़ दिया। पड़ाव थाना पुलिस ने बेटे आदित्य कुमार उर्फ हैप्पी की शिकायत पर अज्ञात फॉरचूनर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

बेटे हैप्पी ने बताया कि वह दो भाई हैं और छावनी के सुंदर नगर में रहते हैं। छोटा भाई प्रिस पिता अनिल कुमार के साथ महाराजा होटल के सामने जूस की रेहड़ी लगाते हैं। हैप्पी ने बताया कि उसके पिता रोजाना 10 से 11 बजे के बीच में घर पर आते हैं। शनिवार रात को जब उसके पिता घर पर नहीं आए तो वह सभी परेशान हो गए। रात को उन्होंने अपने पिता अनिल कुमार को बस स्टैंड समेत अन्य जगह पर ढूंढा। लेकिन उनका कुछ भी पता नहीं चला। सुबह उन्हें सूचना मिली कि रोड के किनारे कोई एक्सिडेंट में घायल व्यक्ति पड़ा हुआ है। जब वह अपने चाचा विजय और सतीश कुमार के साथ मौके पर पहुंचा तो देखा वह उनके पिता थे और कान-मुंह से खून निकला हुआ था। इसके अलावा कुछ दूरी पर एक गाड़ी के सामने लगी प्लास्टिक पट्टी भी पड़ी मिली। जिस पर फॉरचूनर अंग्रेजी में लिखा था और मौके पर गाड़ी की सामने वाली सफेद रंग की फॉग लाइट भी पड़ी थी। बेटे ने बताया कि उसके पिता रोजाना थ्री व्हीलर से डीआरएम मोड तक आते हैं, यहां से रोड क्रॉस करते हैं। देर रात को भी जैसे ही वह थ्री व्हीलर से उतर कर रोड क्रॉस करने लगे होंगे तो दिल्ली की ओर जा रही फॉरचूनर गाड़ी ने उसे टक्कर मार दी। पड़ाव पुलिस ने बेटे की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस