जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अति महत्वाकांक्षी योजना एक फरवरी से साकार होने वाली है। अंबाला के नारायणगढ़ और बराड़ा में राशन डिपो के माध्यम से सप्लाई हो रहे फोर्टिफाइड आटे के सफल वितरण के बाद अब पूरे अंबाला जिले और पूरे करनाल में एक फरवरी से सभी डिपुओं पर कार्ड धारकों को गेहूं की जगह 5 रुपये प्रति किलो की दर से यह आटा मिलेगा। करनाल जिले में जहां 8 फ्लोर मील को गेहूं से आटा तैयार करने का टेंडर दिया गया है, वहीं अंबाला में यह काम चार फ्लोर मील करेंगी। बता दें कि फोर्टिफाइड आटे में विटामिन बी प्लस के साथ आयरन और फोलिक एसिड भी मिलाया गया है, ताकि माताओं व बेटियों में रक्त और विटामिन की कमी को पूरा किया जा सके।

------------------------------

विवादों में रही फर्म की शर्तें पूरी होते ही मिली हरी झंडी

पूरे प्रदेश में यह योजना अक्टूबर 2018 में शुरू करनी थी लेकिन एक फर्म को लाभ पहुंचाने के लिए योजना अटकी रही। इस फ्लोर मील की पांच बार चे¨कग की गई लेकिन कभी मशीनें नहीं मिली तो कभी बिजली का मीटर व अन्य जरूरी शर्तें अधूरी रही। अब जनवरी में उसने सभी शर्तें पूरी कर ली। इसीलिए योजना को भी सरकार ने हरी झंडी दिखा दी।

-------------------------

अंबाला में 3 हजार तो करनाल में 4597 मीट्रिक टन वितरित होगा आटा

पूरे अंबाला में करीब 3 हजार मीट्रिक टन आटा राशन डिपुओं के माध्यम से वितरित होगा जबकि करनाल में यह 4597 मीट्रिक टन वितरित किया जाएगा। अंबाला में 1 लाख 39 हजार 299 राशन कार्डों पर 5 लाख 74 हजार 789 लोग निर्भर हैं। जबकि करनाल में 1 लाख 95 हजार 65 राशन कार्डों पर 8 लाख 80 हजार 71 लोग निर्भर हैं।

------------------

विदेशों तक में पहुंची हरियाणा के फोर्टिफाइड आटे की गूंज

प्रदेश में शुरू की गई इस योजना की गूंज संयुक्त राज्य अमेरिका तक पहुंच चुकी है। इसके अलावा एशिया पेसीफिक से भी कई लोग इस योजना के बारे में जानकारी लेने अंबाला पहुंच चुके हैं। इस योजना को शुरू कराने में जिला खाद्य आपूर्ति विभाग को शुरुआत में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

----------------------------

फोटो: 53

एक फरवरी से पूरे जिले सहित करनाल में भी सभी डिपुओं पर फोर्टिफाइड आटा मिलेगा। इसका रेट 5 रुपये प्रति किलो ही तय किया गया है। यहां योजना सफल होने के बाद पूरे प्रदेश में इसे एक साथ लागू कर दिया जाएगा। हमें खुशी है कि हमारी यह योजना विदेशों तक में छाई हुई है।

निशांत राठी, डीएफएससी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप