जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : ¨सगापुर भेजने के नाम पर जंडली की इंदिरा कालोनी के कौशल शर्मा से 2.80 लाख रुपये की ठगी की गई। दिसंबर 2017 की घटना में आरोपितों ने उस न तो विदेश भेजा न ही पैसे लौटाए। उल्टे देख लेने की धमकी दी। भुक्तभोगी को यह आश्वासन देकर चेन्नई भेज दिया गया कि वे वहां से ¨सगापुर भेज देंगे। किसी से संपर्क न होने पर कौशल वापस लौट आया। काफी समय तक गुमराह करने के बाद उसे 1.80 लाख का चैक दिया गया। बाद में पेमेंट रुकवा दी गई।

पंचायती प्रयासों के बाद सरेआम इंकार होने पर 14 जून 2018 को एसपी को शिकायत दी गई। जांच में आरोप सही पाए जाने के बाद कार्रवाई की सिफारिश की गई तो मंगलवार बलदेवनगर थाने में जंडली के धर्मचंद, करनाल के विपिन, यमुनानगर के मोहित, उसके पिता रमेश, माता व यमुनानगर के अजय के खिलाफ केस दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी गई। केस के अनुसार धर्मचंद ने को विदेश भेजने के लिए 2.80 लाख में सौदा किया। धर्मचंद ने ही कौशल की अन्य आरोपितों से पहचान करवाई। चैक से पेमेंट ले ली। भुक्तभोगी को विश्वास में लेने के लिए कुछ लोगों के पासपोर्ट व अप्रूवल भी दिखाई गई। 5 दिसंबर को इकरार नामा हुआ। 8 जनवरी को उसे टिकट देकर चेन्नई भेज दिया गया। तीन दिन वहां उसे कोई नहीं मिला तो वापस आए भुक्तभोगी ने धर्मचंद से बात की। धर्मचंद का कहना कि अन्य लोग बाहर गए हैं। घबराने की आवश्यकता नहीं। वह उसके पैसे दिलवा देगा। काफी समय तक कोई हल न निकलने के बाद शिकायतकर्ता यमुनानगर में मोहित व उसके माता-पिता से भी मिला था।

बलदेवनगर थाना प्रभारी विदेश भेजने के नाम पर ठगी के केस की तफ्तीश जारी है। आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran