जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : गांव धुरकड़ा की रहने वाली महिला कमलेश देवी के साथ जमीन की रजिस्ट्री करवाने के नाम पर 12 लाख रुपये की धोखाधड़ी हो गई। महिला ने इसका आरोप महिला संतोष देवी, उसकी बेटी रूचि हसीजा, दामाद रोहित हसीजा व तुषार महिदू पर लगाया है। महिला ने इसकी शिकायत बलदेव नगर थाना पुलिस को दी है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर तफ्तीश आरंभ कर दी है।

पुलिस को दी शिकायत में कमलेश चौपड़ा ने बताया कि उसका संतोष देवी के साथ 76 कनाल 13 मरले में से 10 कनाल 19 मरले का सौदा हुआ 23 लाख रुपये में हुआ था और गवाह के तौर पर संतोष की बेटी रूचि हसिजा व अपने दामाद रोहित हसिजा मौजूद थे। लेकिन बयाना के समय चार लाख रुपये आरटीजीएस के माध्यम से की गई थी। 27 नवंबर 2029 को जमीन की रजिस्ट्री तय हुई थी। परंतु आनलाइन अप्वाइंटमेंट में कानूनी अड़चन होने के कारण बयाना की तारीख को आगे बढ़ा दिया गया था, लेकिन बयाना की राशि आरोपितों के पास 12 लाख रुपये जा चुकी थी। कमलेश चोपड़ा के मुताबिक इकरारनामा आरोपित संतोष देवी के पूरे परिवार की जानकारी में हुआ था। इस दौरान सभी ने अपने-अपने हस्ताक्षर भी किए थे। परंतु पिछले 4-5 महीने से आरोपितों से रजिस्ट्री करवाने बारे संपर्क किया गया, लेकिन टाल-मटोल शुरू कर दी और अलग-अलग प्रकार के बहाने लगाते रहे। अपनी 12 लाख रुपये की राशि लेने के लिए जब आरोपित संतोष देवी के दामाद रोहित व तुषार से बातचीत की लेकिन उन्होंने ने भी टाल मटोल करना शुरू कर दिया।

कमलेश के मुताबिक उसे आरोपितों पर शक होने लगा। जब उसने जमीन के बारे में पटवारी से पूछताछ की तो सुनकर हैरान हो गई। आरोपितों ने धोखाधड़ी कर उससे बयाना की राशि को हड़प लिया और अन्य लोगों को लालच में आकर जमीन को आगे बेच दिया।

Edited By: Jagran