जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : अंबाला पुलिस ने शुक्रवार को अपने 18 और कंडम वाहनों को नीलाम कर 16.30 लाख की राशि को सरकार की झोली में जरूर डाल दिए। मगर महकमे के सामने वाहनों का और संकट खड़ा हो गया। चूंकि वाहनों का टोटा होने के चलते पुलिस पेट्रोलिग नहीं हो पा रही है। महकमे के अब तक 106 वाहन कंडम होने के बाद नीलाम हो चुके हैं, जबकि पहले पुलिस के पास 229 वाहन थे। यहां बता दें कि पुलिस महकमा जितने कंडम वाहनों को नीलाम करता है उतने ही वाहनों की जरूरत भी है।

पुलिस के 18 कंडम वाहनों की नीलामी रोडवेज वर्कशाप में एडीसी की देखरेख में हुई। इस दौरान अन्य विभागों के भी कंडम वाहनों की बोली हुई थी। जिनमें पुलिस महकमे के 18 वाहन थे। इनमें ज्यादातर पुलिस की कंडम जिप्सियां थीं। जिन्हें लंबे समय से कंडम होते हुए काम लिया जा रहा था।

--------- 229 में से बचे थे 179 वाहन

विभाग के मुताबिक छह माह पूर्व 229 वाहन थे। इसके बाद इनकी संख्या 179 रह गई थी जिनमें 48 वाहनों की नीलामी पहले ही कर दी गई थी। जो कि साल 2002, 3, 4, 5 और 2006 के माडल थे। इन्हीं से ही फील्ड मूवमेंट हो रही है, मगर यह वाहन पुलिस के लिए बहुत कम हैं। ऐसे में अब पुलिस के एमटीओ विभाग ने मुख्यालय को नए वाहनों को खरीदने के लिए पत्र लिखा था। हालांकि पिछले साल कंडम हुए वाहनों को बेचकर सरकारी खजाने में राशि को जमा किया जा चुका है, कितु अब तक नए वाहन महकमे में नहीं आए हैं।

-------- 18 कंडम वाहनों की नीलामी हुई है, जिनकी कीमत 16.30 लाख रुपये लगी है। विभाग के पास वाहनों का टोटा होने के चलते अब संकट खड़ा हो गया है। हमें 106 वाहनों की और आवश्यकता है।

-राजकुमार, एमटीओ, पुलिस विभाग

Edited By: Jagran