जागरण संवाददाता, अंबाला : सोने की घड़ी बताकर युवकों ने महेशनगर के रहने वाले सतीशचंद्र वैद को चूना लगा दिया। सुनार को जब घड़ी दिखाई तो उसने नकली बताई। पीड़ित ने एसपी से शिकायत की। उसके बाद महेशनगर थाने में केस दर्ज हुआ। साइबर सेल की मदद से व्यक्ति के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की गई तो दिल्ली की निकली। साथ ही जिस एटीएम में पीड़ित सतीशचंद्र ने पैसे निकाले थे, तो उस एटीएम में भी ठगी करने वाले युवक का हुलिया भी कैद हो गया है। सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से पुलिस आरोपित की पहचान करने में जुटी है। इस घटना से पहले ठगी करने वाला गिरोह करनाल के एक व्यक्ति को 30 लाख की घड़ी बताकर 14 लाख रुपये में बेच चुका है।

---

40 हजार में खरीदी 80 हजार की गोल्डन घड़ी

जनवरी में महेशनगर निवासी सतीश चंद्र को अंजान युवक मिला। उसने सतीश को घड़ी दिखाई। जिस पर गोल्डन कलर था। उसकी कीमत युवक ने 80 हजार रुपये बताई, लेकिन सतीश चंद्र ने रकम कम करने के लिए कहा, लेकिन युवक ने पहले 60 हजार रुपये में सौदा किया, लेकिन सतीशचंद्र ने तय किए गए 40 हजार रुपये में घड़ी खरीद ली, लेकिन बाद में इस घड़ी को सर्राफा को दिखाया गया तो नकली निकली।

एटीएम बूथ के कैमरे में कैद हुआ ठगी करने वाला

सतीशचंद्र के मुताबिक जब वह ठग को पैसे देने के लिए रकम निकालने के लिए एटीएम पर गया तो ठग भी पीछे आ गया। वह मोबाइल लेकर उसके पीछे खड़ा हुआ। एटीएम बूथ में लगे कैमरे में उसका चेहरा आ गया। पुलिस फोटो के जरिये ठगी करने वाले गिरोह की तलाश में जुट गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस