अहमदाबाद, जेएनएन। वडोदरा जिला पंचायत की कांग्रेस अध्‍यक्ष के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव पारित हो गया है। भाजपा के 14 सदस्‍यों के साथ मिल कांग्रेस के 16 सदस्‍यों ने उनके खिलाफ मतदान किया। कांग्रेस में अंदरूनी खींचतान के चलते कांग्रेस ने ही उनके खिलाफ अविश्‍वास का प्रस्‍ताव रखा था।

वडोदरा जिला पंचायत की अध्‍यक्ष पन्‍ना बेन भट्ट का विरोध करते हुए जिला पंचायत में कांग्रेस के 22 में से 16 सदस्‍यों ने पहले उन पर इस्‍तीफे का दबाव बनाया। पन्‍नाबेन ने प्रदेश अध्‍यक्ष अमित चावडा के समक्ष इस्‍तीफा सौंप भी दिया, लेकिन जिला विकास अधिकारी को इस्‍तीफा देने के बजाए उन्‍होंने अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर मतदान कराने का रास्‍ता अपनाया। पार्टी के जिला प्रभारी राजेंद्रपटेल के इशारे पर उन्‍होंने ऐसा किया बताया। पन्‍ना बेन को प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष सिद्धार्थ पटेल के समर्थन से ही जिला पंचायत का अध्‍यक्ष बनाया गया था।

लेकिन वर्तमान अध्‍यक्ष चावडा समर्थक उन्‍हें हटाना चाहते थे, इसलिए अविश्‍वास प्रस्‍ताव लेकर आए जो सोमवार को पारित हो गया। 36 सदस्‍यों वाली जिला पंचायत में भाजपा के 14 सदस्‍य हैं, हालांकि नया अध्‍यक्ष कांग्रेस से ही होगा। भाजपा सदस्‍यों ने नए अध्‍यक्ष के समर्थन का भी ऐलान कर दिया है, लेकिन गुटबाजी होने के चलते कांग्रेस ने अभी नए नेता के नाम के पत्‍ते नहीं खोले हैं। वडोदरा जिला पंचायत अध्‍यक्ष का पद सामान्‍य महिला के लिए आरक्षित है।

भाजपा के 14 सदस्‍य निर्विरोध निर्वाचित

भाजपा प्रदेश उपाध्‍यक्ष आई के जाडेजा ने बताया कि ध्रांगध्रा खेती बाड़ी बाजार उत्‍पन्‍न समिति के चुनाव में नामांकन का सोमवार को अंतिम दिन था। 14 सदस्‍यों के लिए होने वाले चुनाव में कांग्रेस की ओर से किसी ने नामांकन नहीं भरा, जिससे भाजपा के सभी सदस्‍य निर्विरोध निर्वाचित हो गए।

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप