अहमदाबाद। मौसमी बीमारियों के प्रकोप से बचने के लिए गुजरात के स्वास्थ्य विभाग ने खाने पीने की दुकानें व खुले में बिकने वाली खाद्य सामग्री के सेम्पल लिए हैं वहीं वडोदरा में पानी पूरी की बिक्री पर भी रोक लगा दी है। गोलगप्पों में प्रयुक्त आलू व मसालों में रसायनों की मिलावट की शिकायत के बाद यह फैसला किया है।

राज्य में मानसून की मार के बाद कई जिले बाढ के हालात का सामना कर चुके हैं अब इस आपदा से निपटने के बाद स्वास्थ्य विभाग राज्य के कई बडे शहर में मौसमी बीमारियों से निपटने में जुट गए हैं। शहरों में फैल रही गंदगी के कारण डेंगू, चिकनगुनिया, पीलिया, मलेरिया आदि फैल रहा है जिससे निपटने के लिए सरकार ने खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता पर ध्यान केन्द्रित किया है। शहरों में खासकर खुले में बिकने वाली खाद्य सामग्री तथा गोलगप्पों पतासी को महिलाएं व बच्चे खूब पसंद करते हैं इसलिए वडोदरा में तो इसकी बिक्री पर प्रतिबंध भी लगा दिया है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का मानना है कि खुले में खाद्य पदार्थ बेचने वाले लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड कर रहे हैं। वड़ोदरा में पानीपूरी बेचने वाले सड़े आलू का इस्तमाल कर रहे है। पानी को चटकारा बनाने के लिए उसमें केमिकल डाला जा रहा था जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने इन पर छापा मारकर इनकी बि्क्री रोक दी। स्वास्थ्य विभाग ने अहमदाबाद, राजकोट और सूरत मे खानपान के दुकानों तथा ठेलों पर भी यह कार्रवाई की । अधिकारियों के मुताबिक वड़ोदरा में स्थिति बहुत ही खराब है।

पीलिया, डेंगू , मलेरिया के मरिजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है । वहीं गोलगप्पों सहित खानपान के ठेलों पर मिलवाटी सामान से लोग बीमार पड़ रहे है। इसलिए पानीपूरी की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। सूरत के उधना, वेषु और पांडेसरा क्षेत्र में स्वास्थ्य अधिकारियों ने खाध्य वस्तुओं के सेम्पल फैल होने से होटलों को सील कर दिया । राजकोट में भी स्वास्थ्य विभाग की छापे मारी के दौरान खाध्य पदार्थ के सेम्पल फैल होने से होटलों मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की गई ।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री कुमार कानाणी ने बताया कि प्रदेश की सरकार को लोगों के स्वास्थ्य के प्रति गंभीर है। सरकार ने मानसून के समय गंदगी बढ़ने से रोकने के लिए कई विशेष कदम उठाये है। जिसके तहत मच्छरों के पैदावार को रोकने के लिए जगह-जगह दवाइयों का छिड़काव किया गया है। डोर टू डोर दवाइयों का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवार करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। आगामी दिनों में यह अभियान जारी रहेगा  

Posted By: Preeti jha