अहमदाबाद, जेएनएन। सूरत में हुए अग्निकांड के बाद फायर ब्रिगेड और पुलिसकर्मियों की एक और नाकामी सामने आई है। यहां वापी टाउन में स्थित होटल की पांचवीं मंजिल से एक अधेड़ ने 15 मिनट तक हाथ जोड़ कर खड़ा रहने के बाद मौत की छलांग लगी दी। यहां से पुलिस थाना और फायर ब्रिगेड कुछ ही दूरी पर है। फिर भी किसी ने उसे बचाने का प्रायस नहीं किया, मौके पर उपस्थित लोग मोबाइल से वीडियो उतारते रहे।

सूरत अग्निकांड के बाद लोगों की लापरहवाही की यह दूसरी घटना है। महिधपुरा निवासी पियूष धीरज लाल पटच्चीगर मंगलवार क सुबह महाराजा होटल में कमरा बुक करवाया। यहां से पुलिस स्टेशन और दमकल की ऑफिस करीब 100 और 200 मीटर की ही दूरी पर है। पियूष पच्चीगर होटल की पांचवीं मंजिल की गैलरी में लगे बोर्ड पर चढ़ गया। वह हाथ जोड़े हुए मुद्रा में 15 मिनट तक खड़ा रहा। उसे इस अवस्था में देखकर लोग एकत्र हो गए। सब लोग वीडियो और फोटो लेने में ही मस्त हो गए। किसी ने भी उसे बचाने का प्रयास नहीं किया, न ही पुलिस या फायरब्रिगेड, जो यहां से कुछ ही दूरी पर थे। अंततः अधेड़ ने छलांग लगाकर आत्हत्या कर ली।

घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने उसके परिजनों का संपर्क किया। पुलिस के मुताबिक, सात-आठ वर्ष से उसने परिजनों से संबंध तोड़ दिया। फिलहाल, मामले की छानबीन की जा रही है।  

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस