अहमदाबाद, जेएनएन। Lady Don Sonu Dangar Arrested. गुजरात में सौराष्‍ट्र की लेडी डॉन सोनू डांगर व उसके गिरोह के नौ अपराधियों को अमरेली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनके खिलाफ हत्‍या, धमकी, फिरौती, हफ्ता वसूली, अपहरण व मारपीट जैसे मामले दर्ज हैं। गुजकोटॉक कानून के तहत राज्‍य में दूसरा मामला दर्ज किया गया है।

अमरेली के पुलिस अधीक्षक निर्लिप्‍त रॉय की अगुवाई में विशेष जांच दल ने अमरेली, राजकोट, भावनगर, जूनागढ, गीर सोमनाथ जिलों में आतंक का पर्याय बन चुकी लेडी डॉन सोनू डांगर को लोकल क्राइम ब्रांच ने धर दबोचा है। एलसीबी के पुलिस निरीक्षक ने खुद इन सभी के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू की थी। एसपी रॉय, पुलिस उपाधीक्षक केजे चौधरी, सहायक पुलिस अधीक्षक सुशील अग्रवाल जैसे आला अधिकारियों ने सौराष्‍ट्र में आतंक मचाने वाली सोनू डांगर व उसकी गैंग के गुनाहों की एक फेहरिस्त तैयार की, उसके बाद लंबे समय तक उनकी हरकतों पर नजर बनाए रखी। डांगर गिरोह लगातार गैरकानूनी कामों को अंजाम दे रहा था, इन पर शिकंजे के लिए अमरेली जिला पुलिस ने एक खास अधिकारी व जवानों का विशेष जांच दल गठन किया।

इसी दौरान सोनू डांगर ने सोशल मीडिया पर एक वी़डियो शेयर कर अमरेली की महिला पुलिस कांस्‍टेबल को खुलेआम धमकी दी, जिसके बाद यह गैंग पुलिस की नजरों में चढ़ गई। इससे पहले गत वर्ष सोनू डांगर ने अमरेली पुलिस अधीक्षक निर्लिप्‍त रॉय व सावरकुंडला थाने की महिला पुलिस निरीक्षक के खिलाफ भी एक वीडियो सोशल मीडिया में शेयर किया था, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

सोनू डांगर के साथ अमरेली पुलिस ने शिवराज उर्फमून्‍ना, शैलेष, दादेश, अशोक बोरीचा, बालसिंह बोरीचा, वनराज वाला, नरेंद्र खुमाण, गौतम खुमाण के खिलाफ गुजरात कंट्रोल ऑफ टेरेरिज्‍म एंड ऑर्गेनाईज क्राइम कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इससे पहले साबरमती जेल में रहकर हफ्तावसूली का नेटवर्क चलाने वाले माफिया विशाल गोस्‍वामी के खिलाफ गुजकोटॉक कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। सोनू डांगर व उसके साथी करीब एक दशक से सौराष्‍ट्र के विविध जिलों में अपराधीगेंग चला रहे थे। 

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस