अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात में मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी व उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल की अगुवाई में सरकार के पांच साल पूरे होने पर एक से नौ अगस्‍त तक प्रदेश में विविध कार्यक्रम होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह इसमें ऑनलाइन शिरकत करेंगे। विजय रूपाणी ने सात अगस्‍त 2016 को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन अगस्‍त को वर्चुअल समारोह से जुड़कर गुजरात के सवा चार लाख परिवारों को अनाज की किट के वितरण (अन्‍नोत्‍सव) की शुरुआत करेंगे, जबकि गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह सात अगस्‍त को चार हजार करोड़ की वतन प्रेम योजना का ऑनलाइन लोकार्पण करेंगे। सरकार की ओर से एक अगस्‍त को शिक्षा को बेहतर व आधुनिक तकनीक से बेहतर बनाने पर चर्चा होगी।

सरकार शिक्षा पर 323 करोड़ रुपये खर्च करेगी। दो अगस्‍त को गरीब व पिछड़ों के प्रति संवेदना जताते हुए 4941 बच्‍चों को सवा करोड़ की सहायता दी जाएगी। सरकार पांच अगस्‍त को किसान सम्‍मान दिवस पर तीन हजार से अधिक किसानों को सवा करोड़ की सहायता देगी। चार अगस्‍त को 10 हजार सखी मंडलों को सरकार एक हजार करोड़ रुपये की मदद करेगी। छह अगस्‍त को रोजगार दिवस के रूप में 50 हजार युवक युवतियों को सरकारी व गैरसरकारी नौकरियों के नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे। आठ अगस्‍त को विविध शहरों में पांच हजार करोड़ के शहरी विकास के कामों को लोकार्पण किया जाएगा। नौ अगस्‍त को विश्‍व आदिवासी दिवस मनाते हुए 53 आदिवासी बहुल तहसीलों में 817 करोड़ के 186 विकास कार्यों की शुरुआत होगी। 

गुजरात में मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी व उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल की अगुवाई वाली सरकार के पांच साल पूरे होने पर सरकार आठ दिन तक उत्‍सव मनाएगी। हितेंद्र देसाई, माधव सिंह सोलंकी व नरेंद्र मोदी के बाद लगातार पांच साल या उससे अधिक समय तक सत्‍ता में रहने वाले मुख्‍यमंत्रियों की फेहरिस्‍त में अब विजय रूपाणी का नाम भी होगा। सरकार समाज के प्रतिष्ठित लोगों के साथ मिलकर महिलाओं, आदिवासियों, युवाओं तथा किसानों के विकास के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी व उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल की अगुवाई वाली सरकार का गठन अगस्‍त, 2016 में हुआ था। तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री व उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल के इस्‍तीफे के बाद राज्‍य की कमान विजय रूपाणी व नितिन पटेल ने संभाली। उनकी अगुवाई में ही 2017 का चुनाव लड़ा गया तथा भाजपा फिर सत्‍ता में आई। पांच साल पूरे होने पर सरकार लगातार आठ दिन तक उत्‍सव मनाकर विविध वर्गों के विकास पर मंथन करेगी।

Edited By: Sachin Kumar Mishra