अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। Coronavirus: गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 14340 नए मामले सामने आए, 158 मौतें हुईं और 7,727 रिकवर हुए। कुल मामले 5,10,373 हैं। सक्रिय मामले 1,21,461 हैं। वहीं, आणंद में गरबा खेलने पर पुलिस ने 12 लोगों पर केस दर्ज किया है। इधर, गुजरात सरकार ने 18 से 45 वर्ष के लोगों के टीकाकरण के लिए टीका के डेढ़ करोड़ डोज की व्यवस्था की है। गुजरात में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को एक मई से राज्य सरकार की ओर से निशुल्क टीका लगाया जाएगा। सरकार ने पूना की सिरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड टीका के एक करोड़ डोज तथा हैदराबाद के भारत बायोटेक को 50 लाख टीका के डोज का आर्डर कर दिया है।

गुजरात में मुफ्त लगेगा कोरोना का टीका

राज्य सरकार की ओर से कोरोना का टीका पूरी तरह निशुल्क लगाया जाएगा। टीका लगाने के लिए राज्य के 6000 हेल्थ सेंटर सिविक सेंटर अन्य सरकारी कार्यालयों पर व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की उपस्थिति में आयोजित कोर कमेटी की बैठक में राज्य में एक मई से वृहद टीकाकरण अभियान शुरू करने की घोषणा की गई है। राज्य में अब तक एक करोड़ 13 लाख टीका लगाए जा चुके हैं। कोर कमेटी की बैठक में गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा मुख्य सचिव अनिल मुखिया मुख्यमंत्री कार्यालय के अतिरिक्त मुख्य सचिव मनोज कुमार दास सचिव अश्विनी कुमार स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव डॉ जयंती रवि सचिव संजीव कुमार हरीश शुक्ला धनंजय द्विवेदी तथा स्वास्थ्य आयुक्त जय प्रकाश शिवहरे आदि उपस्थित थे।

सिलेंडर सेवा शुरू

गुजरात विधानसभा में नेता विपक्ष परेश धनानी ने अमरेली जिला कांग्रेस व परिवर्तन ट्रस्ट की मदद से अपने विधानसभा क्षेत्र अमरेली में प्राण वायु (आक्सीजन) सेवाकेंद्र सिलेंडर की सेवा शुरू की है। धनाणी ने कोरोना की पहली लहर के दौरान भी निशुल्क भोजन की व्यवस्था की थी, जिसके तहत 18 लाख लोगों को भोजन पहुंचाया गया था। राज्य में को ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए नेता विपक्ष ने अब लोगों को निशुल्क ऑक्सीजन के सिलेंडर पहुंचाने की शुरुआत की है। इसके लिए सिलेंडर लेने वाले को पेड़ लगाने का शपथ पत्र भरकर देना होगा तथा उसकी बड़ा होने तक देखने करने की भी जिम्मेदारी लेनी होगी। जिला कांग्रेस कार्यालय अमरेली के शरद धनानी मनसुख भंडारी जनक भाई पंड्या संदीप पंड्या व जगदीश मेवाड़ा तथा धर्मेंद्र पानसूरिया आदि आक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था करेंगे। 

गरबा करने वाले 12 लोगों पर पुलिस ने किया केस 

गुजरात में गरबा घर-घर की पसंद है, लेकिन कोरोना महामारी के दौरान आणंद के कुछ महिला-पुरुषों को गरबा करना महंगा पड़ गया। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आणंद के उमरेठ थाना क्षेत्र के एक गांव में घर पर धार्मिक आयोजन के दौरान सार्वजनिक स्थल पर गाना बजाकर गरबा करने को लेकर पुलिस ने 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस इनसे मास्क नहीं पहनने के लिए जुर्माना भी वसूलेगी। उमरेठ थाना इलाके के रतनपुर गांव निवासी रमेश शिवा सोलंकी के भगती फलिया स्थित घर पर गत 24 अप्रैल को एक धाíमक कार्यक्रम रखा गया था। इसके बाद परिवार, पड़ोसी व संबंधियों ने गाना बजाकर गरबा किया तथा इसका वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दिया। यह वीडियो उमरेठ पुलिस के हाथ लगते ही उसने पहले इसकी सच्चाई पता की तथा घटना सही पाए जाने पर रमेश सोलंकी, महेश सोलंकी सहित 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

राजकोट में करोड़ों के गहने लूटे

इधर, राजकोट में कोरोना के चलते सुनसान बाजार का फायदा उठाते हुए हथियारों से लैस तीन लुटेरों ने दिनदहाड़े एक ज्‍वैलरी शोरूम से करोड़ों के गहने लूट लिए। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज कब्‍जे में लेकर घटना की जांच शुरु कर दी है। राजकोट सामां कांठा संत कबीर रोड पर स्थित शिव ज्वैलर्स का मालिक सोमवार दोपहर अपने शोरूम में अकेला था, तभी तीन हथियारधारी लूटेरे उसके शोरूम में घुसे तथा करोड़ों के सोने व चांदी के गहने लूट ले गए। लूटेरों ने शोरूम मालिक के साथ हथियारों की नौंक पर मारपीट की तथा बाद में शोरूम से गहने व नकदी लूट ले गए। घटना के बाद राजकोट पुलिस आयुक्‍त अन्‍य आला अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शोरूम व आसपास के सीसीटीवी फुटेज अपने कब्‍जे में लेकर घटना की जांच शुरू कर दी है, लेकिन लुटेरों के संबंध में कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra