अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के बाद राज्य सरकार ने विवाह समारोह में सौ तथा अंतिम संस्कार में 50 लोगों की ही छूट दी है। सामाजिक समारोह में लोगों के शामिल होने की संख्या को पहले से आधा कर दिया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने बताया कि अहमदाबाद, सूरत, राजकोट तथा वडोदरा में रात्रि का कर्फ्यू जारी रहेगा। 

आरटी पीसीआर तथा एंटीजन टेस्टिंग की संख्या को बढ़ीी

  विवाह समारोह में मेहमानों की संख्या 200 से घटाकर 100 कर दी गई है वहीं अंतिम संस्कार में भी सौ के स्थान पर अब 50 लोग ही शामिल हो सकेंगे। मुख्‍यमंत्री रुपाणी ने बताया कि प्रदेश में आरटी पीसीआर तथा एंटीजन टेस्टिंग की संख्या को बढ़ाकर प्रतिदिन 70,000 किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमितों के लिए अस्पतालों में पर्याप्त बेड की सुविधा उपलब्ध है। राज्य में करीब 55000 आइसोलेशन बेड है जिनमें से लगभग 82 फीसदी, 45 प्रतिशत बेड खाली है।  

वरिष्ठ नागरिकों का रखा जा रहा है विशेष ध्यान 

 लोगों को घर बैठे कोरोना की प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए 104 हेल्पलाइन चालू है जिसका अब तक 2 लाख 78 हजार लोग लाभ उठा चुके हैं। राज्य सरकार के साथ बॉन्ड भरकर मेडिकल की शिक्षा पाने वाले चिकित्सकों को भी सरकार ने जल्द ड्यूटी पर उपस्थित होने को कहा है। जनरल सर्विलेंस तथा कम्युनिटी सर्वे लेंस की सुविधा भी बढ़ाई गई है। वरिष्ठ नागरिकों का विशेष ध्यान रखने के लिए भी सरकार ने एक अभियान चलाया है, राज्य में अब तक 18 हजार से अधिक बुजुर्गों ने इसका लाभ लिया। इसके अलावा अहमदाबाद में सवा सौ से अधिक कियोस्क तथा 74 अर्बन हेल्थ सेंटर के जरिए लगातार करना का टेस्ट किया जा रहा है। हाईवे होटल रेलवे स्टेशन व्यवसायिक भवनों तथा अन्य जगहों पर भी कोरोना की जांच उपचार की व्यवस्था उपलब्ध कराई जा रही है ।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप