अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात के दाहोद में अपहरण व मर्डर का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। पति से मोबाइल पर बात करने की शंका पर पत्नी ने अपने देवर के साथ मिलकर एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। लड़की का शव गुरुवार को भोजेल गांव के पास एक कुंए में से मिलने पर पुलिस ने महिला व उसके पति तथा देवर को गिरफ्तार कर लिया है।

यह सनसनीखेज मामला दाहोद जिले के फतेपुरा तहसील की भोजेल गांव का है। यहां रहते महेन्द्र सिंह हीराभाई चारेल किसानी कर अपने परिवार का पेट भरते हैं। उनके परिवार में पत्नी, दो पुत्र और दो पुत्रियां हैं। छोटी बेटी प्रियंका बेन 10वीं कक्षा में पढ़ाई करती थी। प्रियंका मंगलवार को सुखसर इलाके में कोचिंग क्लास गई थी।

इस दौरान गोविंदभाई बारीया की पत्नी सोनल और उसका देवर पर्वत बारीया लड़की के घर गए और उसके माता-पिता को धमकी देने लगे कि उसकी लड़की प्रियंका और उसके पति गोविंद का चक्कर चल रहा है। प्रियंका पूरे दिन मोबाइल फोन पर उसके पति से बात करती रहती है। उसका वैवाहिक जीवन खराब हो गया। इसलिए उसने अपने देवर के साथ मिलकर यह कांटा हटा दिया। दोनों लड़की के परिजनों को उसका स्कूल बैग देकर फरार हो गए।

इसके बाद परिजनों ने प्रियंका की खोजबीन शुरू की। लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। जिसके बाद परिजनों ने सुखसर पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने शिकायत दर्ज करने के बाद छानबीन शुरू की। इस बीच, भोजेला गांव के पास एक कुएं में लड़की का शव होने की सूचना मिली। जिसके बाद सुखसर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने कुएं में से लड़की का शव बाहर निकाला। शव लापता प्रियंका का था। पुलिस ने तुरंत ही फरार आरोपित सोनल और उसके पति तथा देवर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल कर लिया। जिसके बाद पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू की है।  

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप