अहमदाबाद, जेएनएन। पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर, पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह के बाद गुजरात के पूर्व मुख्‍यमंत्री माधव सिंह सोलंकी ने भी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को पार्टी अध्‍यक्ष बनाने की वकालत की है। सोलंकी ने गुजरात नेतृत्‍व को अक्षम बताते हुए इसमें बदलाव की इच्‍छा जताई।

गांधीनगर में मंगलवार को अपने 94वें जन्‍म‍ दिन पर आयोजित कार्यक्रम में पूर्व मुख्‍यमंत्री व पूर्व विदेश मंत्री सोलंकी ने कहा कि नेता ऐसा होना चाहिए, जिसका प्रभाव पूरे देश पर पड़ता हो। प्रियंका गांधी अपने स्‍वभाव व व्‍यवहार से सबको पसंद है। अभी तक के अनुभव से प्रियंका को जनता का अच्‍छा प्रतिभाव मिल रहा है और वे भी निश्‍चित तौर पर पार्टी अध्‍यक्ष बन सकती हैं। उन्‍होंने अपने जमाने को याद करते हुए कहा कि तब इं‍दिरा गांधी का जबरदस्‍त प्रभाव था, राजनीति व प्रशासन में ऊपर से नीचे तक जुड़ाव अच्‍छा था। इसीलिए इं‍दिरा गांधी के समक्ष जो भी मांग या समस्‍या आती वे तुरंत उसे हल करा देती थी, तभी उस समय गुजरात में कई बड़ी व अच्‍छी योजनाएं ला सके।

माधव सिंह पूर्व केंद्रीय मंत्री व गुजरात कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष भरत सिंह सोलंकी के पिता हैं तथा वर्तमान अध्‍यक्ष अमित चावडा के रिश्‍तेदार हैं लेकिन इस पर भी उन्‍होंने दो टूक कहा कि गुजरात का नेतृत्‍व अक्षम है, उसमें बदलाव कर कांग्रेस का मजबूत करना चाहिए।

माधव सिंह ने कांग्रेस के हित में अपनी बात कही है, उस पर बहस की कोई गुंजाइश नहीं है। उन्‍होंने किसी व्‍यक्ति के बजाए पूरे सिस्‍टम में बदलाव पर बल दिया है जिस पर किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस