अहमदाबाद, जेएनएन। मकर संक्रांति पर गुजरात में जहां प्रदेश के लोग पतंगबाजी का आनंद ले रहे थे। वहीं, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल अपनी सियासी पतंग को हवा देने में जुटे हुए थे। हार्दिक ने विधायक जिग्नेश मेवाणी के घर पर जाकर पतंग उड़ाई ,वहीं अमित शाह अपने समर्थकों के साथ मकर संक्रांति मनाई।

गुजरात की सभी 26 सीट जीतने के लिए तैयारियों में जुटी भाजपा के कार्यकर्ता व नेताओं को एकजुटता का संदेश देने के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह मकर संक्रांति पर एक दिन की यात्रा पर अपने गृह प्रदेश पहुंचे। यहां उन्होंने भाजपा नेताओं के साथ अलग-अलग बैठक की। वहीं, समर्थकों के साथ पतंग उड़ाने का भी लुत्फ उठाया। अमित शाह भाजपा के अध्यक्ष बनने के बावजूद अपने गृह प्रदेश गुजरात में होने वाली राजनीति घटनाओं पर बराबर नजर रखते हैं। पार्टी के काम के लिए देशभर की यात्राओं पर होने के बावजूद वे हर माह गुजरात के लिए समय निकाल ही लेते हैं। कभी कार्यकर्ताओं व नेताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए वे क्रिकेट के मैदान पर चौके-छक्के लगाते नजर आते है। कभी आसमान में पतंग उड़ाते हुए सियासी पेच लड़ाते नजर आते हैं। शाह राज्य की सभी सीट फिर से कब्जाने के लिए यह कवायत कर रहे हैं।

उधर, लोकसभा चुनाव से पहले एसपी, बीएसपी के गठबंधन के टिकट पर जहां हार्दिक पटेल का नाम वाराणसी सीट पर चल रहा है। वहीं, अपनी अपना सियासी गणित साधने के लिए हार्दिक पटेल सोमवार को दलित नेता व निर्दलीय विधायक मेवाणी के घर पतंग उड़ाने पहुंच गए। दोनों ने जमकर पतंग उड़ाई। इस मौके पर समर्थकों का हौसला बढ़ाते हुए उन्होंने सत्ताधारी दल भाजपा पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि वे अपने मित्र जिग्नेश के साथ मिलकर राज्य में भाईचारा व सामाजिक समरता के लिए काम करते रहेंगे। भाजपा के साथ उनकी सामाजिक न्याय की लड़ाई है। हार्दिक ने कहा कि वे देश में भ्रष्टाचार, महंगाई व बेरोजगारी की लड़ाई के लिए अपने मित्रों के साथ में काम करते रहेंगे।

 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस