अहमदाबाद, राज्य ब्यूरो। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा झूठ बोलती है। कांग्रेस ने 70 साल में क्या कुछ नहीं किया। इसके साथ ही पीएम मोदी के चाय बेचने वाले बयानों पर खरगे का दर्द छलका। खरगे ने कहा, 'मैं तो उस वर्ग से आता हूं, जिसके हाथ की लोग चाय तक नहीं पीते।' कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद गुजरात विधानसभा चुनाव में पहली बार सभा करने आए मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी गरीबी की बातें करके लोगों की सहानुभूति बटोरने का प्रयास करते हैं। गुजरात पर बढ़ रहे कर्ज पर चिंता जताते हुए, उन्होंने कहा कि यह राशि भी प्रधानमंत्री मोदी लोगों की जेब से वसूलेंगे। कांग्रेस को फिर से मौका देने की बात करते हुए, उन्होंने लोगों से कहा कि संविधान ने लोगों को अधिकार दिया है कि जो उनके हित में नहीं हो उसे बदल दें।

खरगे ने भाजपा पर साधा निशाना

मल्लिकार्जुन खरगे ने देश में लोकतंत्र की स्थापना का श्रेय कांग्रेस को देते हुए कहा कि यह चुनाव गुजरात के लिए ही नहीं पूरे देश के लिए महत्वूपूर्ण है। भाजपा यहां 27 साल से सत्ता में है। इतने वर्षों जनता की समस्या अगर हल नहीं कर सकती है, तो जनता उन्हें हटा दें। आम आदमी पार्टी का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि दिल्ली से आकर लोग टांग मारते हैं, उनका कुछ नहीं होगा। गांधी, नेहरू और सरदार पटेल की चर्चा कर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने इस देश को बनाया है। गांधी ने आजादी दिलाई, पटेल ने एकता दिलाई और नेहरू ने लोकतंत्र की बुनियाद डाली। खरगे ने मोरबी पुल हादसे को याद करते हुए भाजपा के कामकाज पर सवाल उठाए।

खरगे का भाजपा से सवाल

भाजपा के 70 साल में कांग्रेस ने क्या किया के सवाल पर खरगे बोले की यदि हम कुछ नहीं करते तो लोकतंत्र नहीं मिलता। भाजपा सरकार पर उन्होंने गरीबों और उनकी जमीन लूटने का आरोप लगाया। आदिवासियों की जमीन, जंगल और पानी खत्म कर अमीरों को देने की बात कही। उन्होंने कहा भाजपा के लोग कांग्रेस पर सरदार पटेल का सम्मान न रखने का आरोप लगाते हैं। जबकि हकीकत है कि सरदार पटेल, नेहरू और गांधी ने मिलकर देश को आजादी दिलाई। उन्होंने सवाल किया कि आरएसएस और भाजपा के आफिस में पहले सरदार पटेल की फोटो कहां लगती थी। खरगे ने भाजपा पर कांग्रेस में फूट डालने का आरोप लगाया। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई को याद करते हुए कहा कि मोरारजी भी गुजरात के सपूत थे क्या उन्होंने भी अपने शासन में कुछ नहीं किया जैसा कि भाजपा आरोप लगाती है।

ये भी पढ़ें: Fact Check: कलमा पढ़ रहे इन लोगों का वीडियो फीफा वर्ल्ड कप 2022 का नहीं है

ये भी पढ़ें: दिल्ली, यूपी, बिहार में प्रदूषण से 9 साल तक घट रही उम्र, यह दुनिया के औसत का चार गुना

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट