अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात में शिक्षा के क्षेत्र में काफी विकास हुआ है आयुर्वेद, रक्षा, फॉरेंसिक साइंस, योग के राष्ट्रीय विश्वविद्यालय यहां बनाए गए। देश वे दुनिया के छात्र एवं छात्राएं गुजरात में पढ़ने के लिए आ रहे हैं। गुजरात के गांव- गांव तक ब्रॉडबैंड की सुविधा पहुंच गई है। गुजरात की जनता ने हर 5 साल में भारतीय जनता पार्टी को अपना आशीर्वाद दिया है। सरकार के 5 साल पूरे होने का यह उत्सव नहीं बल्कि सेवा यज्ञ है।

कांग्रेस ने विकास विरोधी काम किए हैं तथा आज भी वह गुजरात के विकास में अवरोधक बनी हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गुजरात को 13 वर्ष तक नेतृत्व मिला है आज देश में गुजरात मॉडल की चर्चा है। रुपाणी सरकार के 5 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में सरकार एवं संगठन 1 से 9 अगस्त तक विविध तरह के कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। 1 अगस्त को ज्ञान शक्ति दिवस के रूप में मनाते हुए सरकार ने इस समारोह की शुरुआत की, उधर कांग्रेस ने इसके समानांतर शिक्षा बचाओ कार्यक्रम आयोजित करके सरकार का विरोध किया।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा एवं अन्य नेताओं ने अहमदाबाद के अंबाबाड़ी क्षैत्र में कार्यक्रम आयोजित कर शिक्षा बचाओ तथा रुपाणी सरकार होश में आओ के नारे लगाए। इससे पहले उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कांग्रेस पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस को दशकों तक शासन करने का मौका मिला लेकिन वह गुजरात का विकास नहीं कर पाई। पहले मुख्यमंत्री रहते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में वह काम किए जो कांग्रेस नहीं कर सकी और अब विजय रुपाणी तथा भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटील के नेतृत्व में गुजरात की सरकार जनहित में काम कर रही है। 

Edited By: Priti Jha