अहमदाबाद, जेएनएन।  कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए गुजरात सरकार ने कई ऐतिहासिक कदम उठाये हैं। सरकारी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गये हैं। वहीं हवाई अड्डे पर स्क्रीनिंग की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई हैं। कोरोना वायरस के बारे में जागरूकता के लिए उठाए गये विविध कदमों का परिणाम है कि इस बार अहमदाबाद के राजपथ क्लब और कर्णावती क्लब में होली के उपलक्ष में आयोजित होने वाला रेनडांस रद्द कर दिया गया हैं। कहा गया है कि रेनडांस में देश तथा विदेश से बड़ी तादाद में लोग एकत्र होकर सामूहिक तौर पर रंगोत्सव मनाते हैं। जिसमें संक्रमण फैलने की संभावना रहती हैं।

गुजरात सहित देश और पूरे विश्व में कोरोना वायरस से हड़कम्प मचा हुआ है। इसका सीधा असर होली और धुलंडी के त्यौहार पर भी पड़ा हैं। धुलंडी के उपलक्ष में हर बार अहमदाबाद के मशहूर राजपथ क्लब , कर्णावती क्लब और वायएमसीए क्लब सहित विविध क्लबों में रेनडांस सहित विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं। जिसमें देश और विदेश से आने वाले लोग बड़ी तादाद में हिस्सा लेते हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए राजपथ और कर्णावती क्लब में आय़ोजित होने वाला रेनडांस रद्द करने का निर्णय लिया गया है। इसके मद्देनजर वायमसी क्लब के प्रबंधन ने भी कार्यक्रम को रद्द करने के लिए बैठक का आय़ोजन किया है। धुलंडी के इस कार्यक्रम में एक दूसरे पर रंग डालने और हस्तधुंड करने तथा गले मिलने सहित नृत्यनाटिका का आयोजन किया जाता है। इसमें कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर विविध क्लबों के प्रबंधन ने इसे निरस्त करने का निर्णय लिया है।

कर्णावती क्लब के प्रेसीडेंट एनजी पटेल ने कहा कि रेनडांस का आयोजन एक महीने पहले से ही किया जाता है। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए देश और विदेश से लोग आते हैं। इस बार धुलंडी के उपलक्ष में आयोजित होने वाले रेनडांस लेडीज हाउसी रद्द कर दिय़ा गया है। वहीं राजपथ क्लब के प्रेसीडेंट जगदीश पटेल ने भी इसी आशय का निर्णय लिया हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। अहमदाबाद वायएमसीए के सीईओ श्याम महेता ने बताया कि हमारे क्लब ने भी कार्यक्रम को निरस्त करने के लिए बैठक का आयोजन किया है। निर्णय के बाद आज देर रात तक इसी घोषणा कर दी जायेगी।

गुजरात सरकार ने बुखार के लिए 104 नंबर से हेल्पलाइन शुरू की है। इसी नंबर से कोरोना वायरस की जानकारी भी प्राप्त की जा सकेगी। राज्य सरकार ने राज्य में आयोजित होने वाले बड़े मेलो पर अभी तक कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है परंतु लोगों से अनुरोध किया है कि सर्दी, खांसी और बुखार होने पर वह सार्वजनिक स्थलों पर न जाए राज्य के 3700 निजी चिकित्सकों को भी कोरोना वायरस के बारे में प्रशिक्षण दिया गया है। कुल 576 आइसोलेशन बेड और 204 वेन्टीलेटर तैयार किए गये हैं। अहमदाबाद की सिविल अस्‍पताल को कोरोना बेज अस्‍पताल घोषित किया गया हैं। वहीं राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गये हैं।

Posted By: Vijay Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस