अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात में कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक पूंजाजी वंश ने गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी को लेकर आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग किया। इस कारण विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें सदन से सात दिन के लिए निलंबित कर दिया। कांग्रेस ने अध्यक्ष पर सरकार के दबाव में ऐसी कार्यवाही करने का आरोप लगाते हुए सदन में हंगामा किया। शुक्रवार को प्रश्नोत्तरी के दौरान कांग्रेस विधायक नौशाद सोलंकी ने अपने प्रश्न का यथोचित जवाब नहीं मिलने पर सदन में नीचे बैठकर विरोध करने लगे। गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने सीट पर बैठे-बैठे कहा कि सदन में ऐसी दादागिरी नहीं चल चलेगी। इस बात पर नाराज होकर कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक पूंजाजी वंश ने संघवी के लिए कथित तौर पर टपोरी शब्द का इस्तेमाल किया। हालांकि विधानसभा अध्यक्ष डा नीमाबेन आचार्य के टोकने के बाद उन्होंने इसके लिए माफी मांग ली, लेकिन कानून मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी ने अध्यक्ष के समक्ष कांग्रेस विधायक को निलंबित करने का प्रस्ताव रख दिया।

कांग्रेस विधायकों ने किया हंगामा

गुजरात विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस विधायक पूंजाजी वंश को सात दिन के लिए सदन से निलंबित कर दिया। इसके विरोध में कांग्रेस विधायकों ने जमकर हंगामा किया। इस बीच, नेता विपक्ष सुखराम राठवा की अगुवाई में कांग्रेस विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष से चेंबर में पहुंचकर निलंबन रद करने की मांग की, लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद कांग्रेस विधायकों की बैठक में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर भी चर्चा हुई। गौरतलब है कि इससे पहले गुजरात में शराबबंदी के बावजूद अवैध शराब की बिक्री होने, अडानी पोर्ट पर हजारों करोड़ का मादक पदार्थ पकड़े जाने, राज्य की सीमाओं पर पकड़े गए मादक पदार्थों के मामले में विधानसभा में विपक्ष ने खूब हंगामा किया। गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी जवाब देने के लिए खड़े हुए, लेकिन विपक्ष के हंगामे के चलते वह जवाब पेश नहीं कर सके सदन को कुछ समय के लिए स्थगित करना पड़ा था। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra