जागरण संवाददाता, अहमदाबाद। वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) मुद्दे पर सूरत के व्यापारियों से चर्चा के लिए बुधवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आगमन से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह मंगलवार को सूरत पहुंचे और व्यापारियों के साथ रात्रिभोज करके उनकी नाराजगी दूर करने का प्रयास किया।

गुजरात विधानसभा चुनाव में प्रचार करने आए राहुल गांधी ने अपने पिछले दौरे के आखिरी दिन सूरत के वराछा इलाके में जनसभा के दौरान कहा था कि जीएसटी को लेकर व्यापारियों को हो रही मुश्किलों को समझने के लिए वह बुधवार को सूरत आएंगे। इसके बाद केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने भी सूरत के व्यापारियों को इसी दिन दिल्ली बुलाया। लेकिन व्यापारियों की ना नुकुर के चलते भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने खुद सूरत पहुंचकर व्यापारियों की नाराजगी दूर करने का प्रयास किया। शाह ने व्यापारियों के साथ रात्रि भोज किया और आगामी कुछ दिनों में उनकी सभी समस्याओं का निराकरण करने का भी वादा किया।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल व मनसुख मांडविया ने भी व्यापारियों से मुलाकात की। इसमें उन्होंने अपनी 42 मांगों का एक मांगपत्र मंत्रियों को सौंपा तथा उनका जल्द हल निकालने की मांग की। इसमें जीएसटी के ऑनलाइन रिटर्न भरने, तकनीकी खामियों, पैसों के लेन-देन और एक बार पैसा कटने के बाद उसकी वापसी को लेकर होने वाली दिक्कतों का उल्लेख है। अब देखना है कि राहुल के पहले शाह व्यापारियों की नाराजगी दूर कर पाए हैं या नहीं। उधर व्यापारियों का कहना है कि वे बुधवार को राहुल गांधी से भी मुलाकात करने वाले हैं, उनकी समस्याएं जो भी हल करे वे उनके पास जाने को तैयार हैं।

आठ जिलों का दौरा करेंगे अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज गुजरात के आठ जिलों का दौरा करेंगे। अमित शाह जूनागढ़, पोरबंदर, गीर सोमनाथ, भरूच, नर्मदा, खेड़ा, आणंद, महिसागर जिले का दौरा करेंगे। इस दौरान अमित शाह संगठन और कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे। 

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra