अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। Gujarat Police: गुजरात में पुलिस कर्मचारियों की परेशानियों को लेकर एक पुलिसवाले की बेटी के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को लिखे पत्र से प्रदेश की राजनीति गरमा गई है। इंटरनेट मीडिया पर वायरल एक मैसेज में पुलिसकर्मियों को किसी का राजनीतिक हथियार नहीं बनने की चेतावनी दी है। गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने पुलिसकर्मियों के ग्रेड पे में संशोधन या भत्तों में बढ़ोतरी का भी संकेत दिया है। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वित्त मंत्रालय के अधिकारियों के साथ इस संबंध में चर्चा की, जिसमें इस पर सहमति की खबर है।

अरविंद केजरीवाल ने पुलिसकर्मी की बेटी के खत का किया जिक्र

गुजरात में विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) अपनी जगह बनाने के लिए पूरा दम लगा रही है। दिल्ली व पंजाब में मुफ्त बिजली, युवकों को रोजगार जैसी लुभावनी गारंटी के साथ गुजरात में आप ने आदिवासियों को जंगल-जमीन के अधिकार देने व महिलाओं को एक-एक हजार रुपये का भत्ता देने जैसी घोषणाएं भी की हैं। बुधवार को अहमदाबाद में आप के महिला सम्मेलन में अरविंद केजरीवाल ने पुलिसकर्मी की बेटी के खत का जिक्र करते हुए गुजरात मेंआप की सरकार बनने पर पुलिसकर्मियों को बेहतर वेतन-भत्तों का भरोसा देने के साथ उनसे यह अपील कर गए कि खुलकर नहीं कर सकते तो अंदरखाने आप की मदद करें, ताकि गुजरात में भी आप की सरकार बनाई जा सके।

पत्र में इस बात का है जिक्र

अरविंद केजरीवाल की इस अपील व पुलिसवालों के वेतन-भत्तों को बेहतर बनाने की घोषणा ने गुजरात के पुलिस बेड़े में हलचल तेज कर दी। शाम होते होते पुलिसकर्मियों के समूहों में संदेश वायरल होने लगे कि सरकार आगामी स्वतंत्रता दिवस पर पुलिसकर्मियों के लिए नए ग्रेड पे की घोषणा करने ही वाली है, पुलिसकर्मी व उनके परिजन धीरज रखें। गौरतलब है कि पुलिसकर्मी की बेटी ने गुजरात के पुलिसकर्मियों की दयनीय हालत को लेकर केजरीवाल के नाम पत्र लिखते हुए कहा कि गुजरात में आप का सत्ता में आना तय है, पुलिसवाले व उनके परिवार के लोग काफी परेशान हैं, उन्हें जरूर न्याय दिलाना।

हर्ष संघवी ने कहा, सरकार पुलिस के वेतन-भत्तों में करेगी सुधार

रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) पर्व पर पुलिस परिवार की महिलाओं से राखी बंधवाने के बाद गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि सरकार उनका दर्द समझती है तथा जल्द उनके वेतन-भत्तों में सुधार करने वाली है। सरकार इस पर मंथन कर चुकी है, आप इस मुद्दे पर राजनीति लाभ उठाने का प्रयास कर रही है। संघवी ने कहा कि पुलिसकर्मियों उनके परिवारों को गुमराह कर राजनीतिक हथियार बनाने का प्रयास नहीं करें, प्रदेश में आप की फ्री की घोषणाओं वाली राजनीति चलने वाली नहीं है। गौरतलब है कि पुलिसकर्मियों के परिवार वालों ने गांधीनगर में ग्रेड पे को लेकर आंदोलन भी किया था, सरकार अब भत्ते बढ़ाकर उनके वेतन में व्रद्धि करना चाहती है, ताकि पुलिसकर्मियों में उभर रहे असंतोष से निपटा जा सके।

जगदीश ठाकोर ने कहा, यह मुद्दा सरकार के लिए ज्वालामुखी जैसा

गुजरात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जगदीश ठाकोर ने कहा कि यह मुद्दा सरकार के लिए ज्वालामुखी जैसा है। पुलिसकर्मियों के परिजनों को धरना-आंदोलन करना पड़े यह बात गंभीर है। सरकार संवाद के जरिए समस्या खत्म नहीं करना चाहती, वे हर विषय में राजनीतिक लाभ देखकर काम करने वाली सरकार है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra