अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 37 मामले दर्ज हुए, जबकि राज्य में कोविड-19 से एक की मौत दर्ज हुई। गुजरात में कोरोना से अब तक आठ लाख 24460 लोग संक्रमित हुए। इनमें से आठ लाख 13853 लोग स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। गुजरात में 12 जुलाई से मौत का आंकड़ा 10074 पर अटका था, लेकिन शनिवार को सूरत जिले में एक मौत दर्ज हुई। जबकि सक्रिय केसों की संख्या 532 है। राज्य में किसी भी महानगर या जिले में कोरोना संक्रमण के आंकड़े दहाई के अंक तक नहीं पहुंच पाए अहमदाबाद महानगर पालिका में छह मामले, वडोदरा में चार, सूरत महानगर पालिका में पांच, राजकोट में एक, भावनगर महानगर पालिका में एक, जूनागढ़ महानगर पालिका में एक, जबकि गांधीनगर महानगर पालिका में कोरोना का एक केस दर्ज किया गया।

राज्य के विभिन्न जिलों में कोरोना संक्रमण के केस इस प्रकार रहे। मेहसाणा में तीन, साबरकांठा में दो, सुरेंद्रनगर में दो, जबकि आणंद, बनासकांठा, भरूच, दाहोद, डांग, गांधीनगर, गिर सोमनाथ, जामनगर, सूरत व वडोदरा जिले में कोरोना का एक-एक मामला दर्ज किया गया। जबकि राज्य के 20 जिले ऐसे हैं, जहां कोरोना संक्रमण के कोई मामले दर्ज नहीं हुए। इनमें अहमदाबाद जिला, अरवल्ली, अमरेली, भावनगर, बोटाद, छोटा उदेपुर, देवभूमि द्वारका, जूनागढ़, खेड़ा, कच्छ, महिसागर, मोरबी, नर्मदा, नवसारी, पंचमहाल, पाटण, पोरबंदर, राजकोट, तापी व वलसाड शामिल हैं। 

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों में टीबी यानी तपेदिक के मामले बढ़ने की खबरें मिल रही हैं। इसको देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी कोरोना पाजिटिव मरीजों के लिए टीबी की जांच कराने को कहा है। साथ ही, टीबी के मरीजों के लिए भी कोरोना जांच की सिफारिश की है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक कुछ मीडिया में रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि कोरोना के मरीजों में अचानक ही टीबी के मामले बढ़ रहे हैं।

Edited By: Sachin Kumar Mishra