रोम, एपी। पिछला हफ्ता पुर्तगाली स्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो के लिए तनाव से भरा रहा। पहले उन्हें यूएफा के साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के अवॉर्ड में रीयल मैड्रिड के अपने पूर्व साथी मिडफील्डर लुका मॉड्रिक से मात मिली और इसके बाद शनिवार को वह एक बार फिर अपने नए क्लब जुवेंटस के लिए गोल करने में असफल रहे। परमा के खिलाफ जुवेंटस ने 2-1 से जीत दर्ज की, लेकिन रोनाल्डो इटली के सीरी-ए लीग के अपने तीसरे मुकाबले में स्कोर नहीं कर पाए।

शनिवार को मुकाबले के बाद जुवेंटस के मैनेजर मासिमिलियानो अलेग्री ने कहा कि इटली के फुटबॉल में अलग तरह की चुनौतियां होती हैं, लेकिन रोनाल्डो अच्छा खेले। उनके लिए यह चुनौतियों से भरा समय है, लेकिन वह जो कुछ भी कर रहे हैं मैं उससे खुश हूं। अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से ब्रेक से उनके खेल में और निखार आएगा। पिछले गुरुवार को रोनाल्डो यूएफा अवॉर्ड कार्यक्रम में नजर नहीं आए जिन्हें साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के लिए नामांकित किया गया था। अलेग्री ने कहा कि यह सही बात है कि रोनाल्डो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का अवॉर्ड नहीं पाने से निराश थे। उन्होंने पिछले सत्र में चैंपियंस लीग में 15 गोल किए और अपनी टीम को चैंपियन बनाया। रोनाल्डो रीयल मैड्रिड को छोड़कर जुवेंटस से 112 मिलियन यूरो (करीब 925 करोड़ रुपये) में करार किया था।

बेशक पिछले तीनों मुकाबलों में रोनाल्डो गोल नहीं कर पाए हों, लेकिन इस दौरान उन्होंने अपनी मौजूदगी से जुवेंटस को जीत हासिल करने में मदद की है। 270 मिनट तक मैदान पर रहने के दौरान उन्होंने कुल 23 बार गोल पोस्ट पर निशाना साधा है जो कि जुवेंटस के किसी भी खिलाड़ी से कहीं ज्यादा है।

रीयल को नहीं खल रही रोनाल्डो की कमी

मैड्रिड, रायटर : क्रिस्टियानो रोनाल्डो के रीयल मैड्रिड का साथ छोड़ने के साथ ही इस क्लब से एक युग का अंत हुआ था। रीयल के लिए सर्वकालीन सबसे ज्यादा गोल करने वाले रोनाल्डो की जगह क्लब के मैनेजर जुलेन लोपेतेगुइ ने कोई नया चेहरा नहीं शामिल किया, लेकिन इसके बावजूद उनकी टीम ने ला लीगा के मौजूदा सत्र में शानदार शुरुआत की है। रीयल ने सत्र में खेले अपनेशुरुआती तीनों मुकाबलों में जीत हासिल की है और वह अपने सबसे बड़े विरोधी बार्सिलोना के साथ अंक तालिका में शीर्ष पर कायम है। शनिवार को रीयल ने लेगानेस को 4-1 से हराया और स्पेनिश लीग में अपने गोल की संख्या 10 तक पहुंचा दी। रोनाल्डो की कमी को बहुत हद तक गेरेथ बेल पूरी करते नजर आ रहे हैं।

पूर्व फुटबॉलर ऑर्थर परेरा का निधन

सोमवार को भारत और महाराष्ट्र के पूर्व फुटबॉलर ऑर्थर परेरा का निधन हो गया। वह 70 वर्ष के थे और पिछले एक साल से कैंसर जैसी घातक बीमारी से लड़ रहे थे। पिछले कुछ दिनों से वह वेंटिलेटर पर थे और उन्होंने बोरिवली के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। अब उनके परिवार में पत्नी के अलावा दो बेटियां हैं। स्ट्राइकर के रूप में खेलने वाले परेरा 1971 में रूस दौरे पर गई भारतीय टीम का भी हिस्सा थे। उन्होंने संतोष ट्रॉफी में 1971 से 1976 तक महाराष्ट्र का प्रतिनिधित्व किया था। इसके अलावा परेरा कई नामी क्लबों के साथ भी खेले जिनमें ओर्के मिल्स भी शामिल रहा। खेल को अलविदा कहने के बाद वह वह सेंट जोसेफ स्कूल में शारीरिक शिक्षक बने।

Posted By: Sanjay Savern