पेरिस, एएफपी। ब्राजील के स्टार फुटबॉलर नेमार को फ्रांस का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। नेमार को पुरस्कार समारोह के दौरान ट्रॉफी दी गई। हालांकि, नेमार से जब उनके भविष्य के बारे में प्रश्न किए तो उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया। पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) के खिलाड़ी नेमार चोट के कारण पिछले काफी समय से मैदान से दूर हैं। विश्व के सबसे महंगे खिलाड़ी नेमार ने पीएसजी के लिए चोट से पहले 20 लीग मैचों में 19 गोल किए हैं। 26 वर्षीय नेमार ने ट्रॉफी लेने के बाद कहा, 'मैं पीएसजी के साथ दिल से जुड़ा हुआ हूं और टीम के इस सत्र से खुश हूं। इस सम्मान को पाकर खुश हूं। हर समय मुझे मेरे भविष्य के बारे में पूछा जाता है लेकिन मैं इस मौके पर यह बाते नहीं करना चाहता। हर कोई जानना चाहता है कि मैं यहां क्यों हूं? मेरा लक्ष्य क्या है तो बताना चाहता हूं कि मेरा लक्ष्य विश्व कप है।' नेमार इस पुरस्कार को पाने के लिए पीएसजी के अन्य दो साथी एडिनसन कवानी और क्लाइन एमबापे को पीछे छोड़ दिया। हालांकि एमबापे ने सबसे युवा खिलाड़ी पुरस्कार जीता।

जुवेंट्स 34वीं बार बना सिरी ए चैंपियन

रोम, एएफपी। जुवेंट्स ने एएस रोमा के खिलाफ गोलरहित मुकाबला ड्रॉ खेलकर लगातार सातवीं और कुल 34वीं बार सिरी ए खिताब अपने नाम किया। इसी के साथ उसने चौथा लीग और कप का डबल भी पूरा कर लिया। चिर प्रतिद्वंद्वी नपोली हालांकि खिताब की दावेदार मानी जा रही थी। उसने सैंपडोरिया के खिलाफ 2-0 से क्लब रिकॉर्ड बनाते हुए जीत दर्ज की, लेकिन वह एक मैच शेष रहते हुए जुवेंट्स से चार अंक पीछे रह गई और खिताब से चूक गई। नपोली के मैच के दूसरे हाफ में कुछ समर्थकों ने नपोली विरोधी नारे लगाकर मैच में खलल भी डाला। टीम तीन सत्रों में दूसरी बार कोच मोरिजियो सारी के मार्गदर्शन में उपविजेता के तौर पर समापन करेगी। जुवेंट्स ने रिकॉर्ड 34वीं बार सिरी ए खिताब अपने नाम किया और साथ ही कोच मैसिमिलानो एलेग्री के मार्गदर्शन में चार घरेलू सत्रों में अपने अपराजेय रिकॉर्ड को भी कायम रखा। तीसरे स्थान पर रही रोमा ने चैंपियंस लीग के अगले सत्र के लिए क्वालीफाई किया। रोमा को मैच के आखिरी 20 मिनट से पहले रादजा नैनगोलन को रेड कार्ड दिखाए जाने के कारण टीम को 10 खिलाडि़यों के साथ शेष मैच खेलना पड़ा था। जुवेंट्स ने एसी मिलान को 4-0 से हराकर इटालियन कप का खिताब भी अपने नाम किया था।

इजरायली क्लब ट्रंप के लिए बदलेगा अपना नाम

यरुशलम, प्रेट्र। इजरायल का सबसे मशहूर फुटबॉल क्लब बीटार यरुशलम अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में क्लब का नाम बदलकर बीटार ट्रंप करेगा। यरुशलम में अमेरिकी दूतावास के उद््रघाटन के बाद क्लब ने इसकी घोषणा की। क्लब का पहले नाम बीटार यरुशलम था और यह टं्रप को जोड़कर बीटार ट्रंप यरुशलम हो जाएगा। क्लब ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इजरायली लोगों को लेकर जो प्यार दिखाया है उससे हम खुश हैं। हम उनके सम्मान के लिए क्लब का नाम बदलना चाहते हैं। बीटार छह बार का इजरायली लीग का चैंपियन है।

ईरान ने किया टीम का एलान

तेहरान, एएफपी। ईरान ने अगले महीने रूस में होने वाले विश्व कप फुटबॉल के लिए टीम का एलान किया जिसमें उन दो मिडफील्डरों को भी शामिल किया गया जो इस्त्राइल की एक टीम के खिलाफ खेलने के कारण पिछले साल से आजीवन प्रतिबंध झेल रहे हैं। मसूद शोजाइ और एहसान हाजी सफी उन 35 खिलाडि़यों में शामिल है जिनके नाम की घोषणा ईरानी फुटबॉल महासंघ ने अपनी वेबसाइट पर की। खेल अधिकारियों ने बताया कि पिछले साल अगस्त में मसूद और एहसान को अपने यूनानी क्लब पानियोनियोस के लिए एक इस्त्राइली टीम के खिलाफ खेलने के कारण आजीवन प्रतिबंध झेलना पड़ा था। ईरान को विश्व कप में कठिन ग्रुप मिला है जिसमें स्पेन, पुर्तगाल और मोरक्को की भी टीमें हैं।

विश्व कप रेफरी जांच के घेरे में

रियाध, एएफपी। रूस में इस वर्ष होने वाले फीफा विश्व कप के लिए चुने गए सउदी अरब फुटबॉल संघ के रेफरी फहाद अल मीरदासी टूर्नामेंट शुरू होने से एक महीने पहले ही जांच के घेरे में आ गए हैं। सउदी अरब फुटबॉल संघ ने सोमवार को बताया कि उनकी जांच एजेंसियां फहाद के खिलाफ जांच कर रही हैं। फीफा ने रूस में इस वर्ष होने वाले फुटबॉल विश्व कप के लिए 36 रेफरियों को चुना है जिसमें से फहाद भी एक हैं। जांच के घेरे में आने के बाद फहाद को रविवार को अल इत्तिहास और अल फैसली के बीच खेले गए किंग्स कप फाइनल से भी हटा दिया गया था और उनकी जगह इंग्लैंड के मार्क क्लेटेनबर्ग को रेफरी की भूमिका में उतारा गया था।

By Sanjay Savern