नई दिल्ली, जेएनएन। येरी मिना के इंजुरी टाइम (90+3वें मिनट) में दागे गए बेहतरीन गोल की मदद से कोलंबिया ने इंग्लैंड के खिलाफ मैच निर्धारित समय तक 1-1 बराबर कर दिया। इसके बाद अतिरिक्त समय निकाला गया लेकिन गोल नहीं हुआ फिर पेनाल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया। इंग्लैंड ने स्पार्टक स्टेडियम में प्री-क्वार्टर फाइनल में पेनाल्टी शूटआउट में कोलंबिया को 4-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल का टिकट कटाया। अब इंग्लिश टीम का अंतिम-आठ में स्वीडन से सामना होगा। इंग्लैंड ने 12 वर्षों के बाद क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है। इससे पहले वह 2006 में पहुंचा था। शूटआउट में कोलंबिया के लिए कप्तान फालकाओ, जुआन कार्डो और लुइस मुरिल ने गोल किए जबकि इंग्लैंड के लिए केन, रशफोर्ड, ट्रिपर और एरिक डायर ने गोल दागे।

यलो कार्ड की बारिश : मैच में यलो कार्ड की बारिश हुई। इस मैच में कोलंबिया को 06 और इंग्लैंड को 02 यलो कार्ड मिले। इसके अलावा पिछले विश्व कप में कोलंबिया के लिए छह गोल करने वाले उसके अहम मिडफील्डर जेम्स रोड्रिग्ज पैर में चोट के चलते इस महत्वपूर्ण मैच से बाहर हो गए। वह दर्शक दीघा में बैठकर मैच को देख रहे थे।

फिर पुरानी कहानी : मैच की शुरुआत में इंग्लैंड के पास खाता खोलने का अच्छा मौका था लेकिन उसके कप्तान 24 वर्षीय स्ट्राइकर हैरी केन इसे भुना नहीं पाए। 16वें मिनट में ट्रिपर ने गोल पोस्ट के नजदीक केन को पास दिया लेकिन केन हेडर पर नियंत्रण नहीं बना पाए और गेंद पोस्ट के ऊपर चली गई। 39वें मिनट में कोलंबियाई खिलाड़ी केन को टैकल करने के चक्कर में उन्हें गिरा बैठे जिसके बाद इंग्लिश टीम को फ्री किक मिल गई। इस दौरान दोनों टीमों के खिलाडिय़ों के बीच नोकझोंक हुई जिससे रेफरी ने इस मामले को शांत करा दिया लेकिन कोलंबियाई खिलाड़ी विलमर बारिओस को रेफरी से बहस करने के चलते यलो कार्ड दिखाया गया जिसके कारण वह अगले मैच में नहीं खेल पाएंगे। इससे पहले मैच में भी उन्हें यह कार्ड नमिला था। किरेन ट्रिपर ने 42वें मिनट में फ्री किक ली लेकिन उनके शॉट पर गेंद कर्व लेती हुए गोल पोस्ट के दायीं ओर चली गई। विश्व कप के प्री-क्वार्टर फाइनल में अभी तक ज्यादातर टीमें पहले हाफ में अपने डिफेंस को बचाते हुए खेली है और इस मैच के हाफ में भी यही देखने को मिला। पहला हाफ गोलरहित रहा।

पेनाल्टी और गोल : 54वें मिनट में इंग्लैंड को कॉर्नर किक मिली लेकिन कॉर्नर किक के दौरान कोलंबियाई खिलाड़ी कार्लोस सांचेज, केन को रोकने के चक्कर में उन्हें पेनाल्टी एरिया में गिरा बैठे जिसके बाद इंग्लिश टीम को पेनाल्टी मिल गई। 57वें मिनट में केन पेनाल्टी लेने आए और उन्होंने आसानी से गेंद जाली में पहुंचाकर टीम का खाता खोल दिया। इसके साथ केन ने इस विश्व कप के अपने तीन मैचों में छह गोल दाग दिए और वह गोल्डन बूट पाने की रेस में सबसे आगे हैं। इस बीच, 81वें मिनट में कोलंबिया के पास बराबरी करने का मौका आया जब जुआन ने पेनाल्टी एरिया में गेंद को हिट किया लेकिन गेंद पोस्ट से बायीं ओर निकल गई। मिना ने

कराई वापसी : इंजुरी टाइम में मैच का नतीजा बदल गया और कोलंबिया को कॉर्नर मिल गया। गोल पोस्ट पर इंग्लिश गोलकीपर और डिफेंडर किले की रक्षा करने के लिए खड़े थे लेकिन मिना ने शानदार हेडर मारकर मैच को अतिरिक्त समय में ढकेल दिया। अतिरिक्त समय में भी कोई गोल नहीं हुआ और मैच का नतीजा पेनाल्टी शूटआउट से हुआ।

नंबर गेम :

- 02 बार ही इंग्लिश टीम विश्व कप के अंतिम-16 से बाहर हुई है। वह 1998 और 2010 के सत्र में प्री-क्वार्टर फाइनल तक पहुंची थी

-12 वर्षों के बाद इंग्लिश टीम विश्व कप के अंतिम-आठ में जगह बनाने में सफल हुई। इससे पहले इंग्लैंड 2006 के सत्र में क्वार्टर फाइनल में खेला था

-09 बार इंग्लैंड विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है। इंग्लिश टीम पहली बार अंतिम-आठ में 1954 में पहुंची थी

- 01 बार कोलंबियाई टीम फुटबॉल के महाकुंभ में क्वार्टर फाइनल में खेली है। टीम ने 2014 के सत्र में यहां तक का सफर तय किया था

- 1998 विश्व कप में इंग्लैैंड ने कोलंबिया को 2-0 से हराया था। 2018 के सत्र से पहले दोनों टीमों की यह आखिरी भिड़ंत थी

- 06 गोल हैरी केन विश्व कप में इंग्लैंड के लिए दागे। वह एक विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल करने के मामले में इंग्लैंड के दूसरे खिलाड़ी है। उनसे पहले गैरी लिंकर ने 1990 के सत्र में 10 गोल किए थे

- 03 पेनाल्टी पर विश्व कप में गोल करने वाले इंग्लैंड के पहले खिलाड़ी बने केन। इस टूर्नामेंट के इतिहास में उनसे आगे पुर्तगाल के युसेबिओ, अजेंटीनी ग्रेबियल बतिस्तुता और नीदरलैंड्स के रॉब रेंसेंबिक ने पेनाल्टी को चार-चार गोल में बदला है

- 56 में से 22 मैच विश्व कप के पहले हाफ में गोलरहित रहे हैं जबकि सिर्फ एक मैच (डेनमार्क बनाम फ्रांस) ही 0-0 से खत्म हुआ

- 03 लगातार विश्व कप में गोल करने वाले कोलंबिया के दूसरे खिलाड़ी बन गए येरी मिना। उनसे पहले जेम्स रोड्रिग्ज है

फीफा विश्व कप की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern