लंदन, एएफपी। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) का रोमांच इस सप्ताह के अंत से शुरू होने जा रहा है, जहां पिछले दो बार के चैंपियन मैनचेस्टर सिटी अपने ईपीएल खिताब की रक्षा के लिए तैयार है। हालांकि, लिवरपूल फुटबॉल क्लब की खिताबी जीत की ज्वलंत इच्छा इस खिताबी रोमांच की आग में तेल डालने का काम करेगी।

पिछले सत्र में तीन घरेलू खिताब जीतने वाली सिटी की टीम जबर्दस्त फॉर्म में है और यह क्लब फिलहाल अपने दबदबे का उसी तरह लुत्फ उठा रहा है जैसा मैनचेस्टर युनाइटेड ने 2007 से 2009 के बीच उठाया था। उधर, यूरोपियन चैंपियन लिवरपूल 1990 के बाद पहला ईपीएल खिताब जीतने की कोशिश में जुटा हुआ है जिसे पिछले सत्र में मैनेजर पेप गॉर्डियोला की सिटी ने सत्र के आखिरी दिन तक चले खिताबी रोमांच में महज एक अंक से पछाड़ा था। इस सप्ताह शुक्रवार को ईपीएल के पहले मुकाबले में जुर्जेन क्लॉप की लिवरपूल का सामना प्रमोट हुए नॉर्विक से एनफील्ड में होगा। वहीं सिटी की टीम शनिवार को वेस्टहम के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगी।

सिटी और लिवरपूल के बीच प्रतिद्वंद्वता की एक झलक रविवार को कम्यूनिटी शील्ड के दौरान देखने को मिली, जहां निर्धारित समय तक दोनों टीमों के 1-1 से बराबर रहने के बाद सिटी ने पेनाल्टी शूटआउट में बाजी मारी। सिटी ने अब तक कभी भी चैंपियंस लीग खिताब नहीं जीता है, जबकि उसके मैनेजर गॉर्डियोला ने पिछली बार 2011 में बार्सिलोना के साथ यूरोपियन चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था। हालांकि, गॉर्डियोला ने कहा कि शरीर को स्वस्थ्य रखने और टीम पर ध्यान केंद्रित करने के लिए हमारे लिए सबसे अहम चीज प्रीमियर लीग खिताब ही है।

युनाइटेड पर होंगी निगाहें : मैनेजर ओले गनर सोल्सकजेर की मैनचेस्टर युनाइटेड की टीम पर भी निगाहें होंगी, जिसने दुनिया के सबसे महंगे डिफेंडर के तौर पर हैरी मैग्यूरे से करार किया है। हालांकि, इस सत्र में टॉटनहम ने उसके मैनेजर मॉरिसियो पोचेटिनो को प्रसन्न करने के लिए नए खिलाडि़यों पर कुछ खास खर्च नहीं किया है। उधर, ईडन हैजार्ड के जाने के बाद अब चेल्सी पर अपने नए मैनेजर फ्रैंक लैंपार्ड के मार्गदर्शन में ट्रांसफर प्रतिबंध के बीच अच्छे प्रदर्शन का दबाव होगा।

नंबर गेम :

-05 ट्रॉफी पिछले दो सत्र में मैनचेस्टर सिटी ने जीती हैं, जिसमें इंग्लिश प्रीमियर लीग के दो खिताब शामिल हैं। 

-03 लगातार ईपीएल खिताब जीतने वाला पिछले 35 वर्षो में दूसरा क्लब बनने की कगार पर है सिटी। इस दौरान मैनचेस्टर युनाइटेड ने दो बार खिताबी हैट्रिक लगाई है। 

-97 अंक लेकर लिवरपूल पिछले ईपीएल सत्र में सिटी के 98 अंकों के बाद दूसरे स्थान पर रहा था। लीग के इतिहास में दूसरे स्थान पर रहने वाली किसी टीम ने कभी इतने अंक हासिल नहीं किए थे। 

-1990 के बाद से लिवरपूल ईपीएल खिताब नहीं जीत पाया है। पिछले सत्र में 38 में से केवल एक मैच हारने के बावजूद उसे उप विजेता रहना पड़ा था। 

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप