बार्सिलोना, एजेंसी। राबर्ट लेवानदोवस्की की हैट्रिक के बदौलत बार्सिलोना ने चैंपियंस लीग मुकाबले में विक्टोरिया प्लजेन को 5-1 से हराया। लेवानदोवस्की का इस लीग में बार्सिलोना के लिए यह पहला मुकाबला था और वह इसमें चमक बिखेरने में कामयाब रहे। मिडफील्डर फ्रैंक केसिए ने 13वें मिनट में जुलेस कोंडे के पास पर गोल किया। इसके बाद लेवानदोवस्की ने 34वें मिनट में सर्गी रोबर्टो के पास पर गोल कर टीम की बढ़त दोगुनी की। इसके 10 मिनट बाद ही विक्टोरिया के जेन सिकोरा ने 44वें मिनट में वाकलाव जेमेल्का के क्रास पर गोल किया।

बार्सिलोना के लिए लेवानदोवस्की ने पहले हाफ के इंजुरी समय में ओउसमाने डेंबेले के क्रास पर हेडर के जरिये गोल कर स्कोर 3-1 कर दिया। लेवानदोवस्की का प्रर्दशन दूसरे हाफ में भी जारी रहा और उन्होंने फेरान टोरेस के पास पर 67वें मिनट में गोल किया। यह उनका इस मैच का तीसरा गोल था। इसके चार मिनट बाद ही फेरान टोरेस ने डेंबेले के पास पर 71वें मिनट में गोल कर बार्सिलोना की बढ़त मजबूत कर दी। अंतिम सीटी बजने तक विक्टोरिया बढ़त हासिल नहीं कर सका।

नापोली ने लिवरपूल को हराया : नापोली ने चैंपियंस लीग में पिछले सत्र के उपविजेता लिवरपूल पर 4-1 की आसान जीत दर्ज की। ग्रुप के पहले दौर के मैच में नापोली ने पहले हाफ मे तीन, जबकि दूसरे हाफ में एक गोल दागा। नापोली को पियोत्र जेलेंस्की ने पेनाल्टी पर गोल दागकर बढ़त दिलाई जिसके बाद आंद्रे फ्रेंक जेंबो एनगुइसा ने टीम की बढ़त को दोगुना किया। एटलेटिको मैड्रिड के कोच डिएगो सिमियोन के बेटे जियोवानी सिमियोन ने इसके बद स्थानापन्न खिलाड़ी के रूप में उतरकर गोल दागा और नापाली को 3-0 से आगे किया। जेलेंस्की ने एक और गोल दागकर नापोली को 4-0 की बढ़त दिला दी। लिवरपूल की ओर से मैच का एकमात्र गोल 49वें मिनट लुई डियाज ने किया। लिवरपूल की नेपल्स के स्टेडियो डिएगो अर्मांडो माराडोना में चार मैच में चौथी हार है।

बायर्न म्यूनिख जीता : बायर्न म्यूनिख ने सैन सिरो में इंटर मिलान को 2-0 से हराकर चैंपियंस लीग का अपना पहला मैच जीतने की परंपरा को जारी रखा। लेराय साने ने बायर्न को 25वें मिनट में बढ़त दिलाई और दूसरे गोल में भी उनकी भूमिका रही। इंटर के डिफेंडर डेनिलो डिएम्ब्रोसियो ने 66वें मिनट में सासने के शाट पर गेंद को अपने ही गोल में डाल दिया। यह लगातार 19वीं बार है जब जर्मनी की टीम ने प्रतियोगिता में अपना पहला मैच जीता है और 17वीं बार उसके विरुद्ध कोई गोल नहीं हुआ है।

Edited By: Sanjay Savern