नई दिल्ली, एजेंसी। भारतीय फुटबॉल टीम ने अब तक फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर मुकाबलों में एक भी जीत हासिल नहीं की है। टीम फीफा रैंकिंग में भी इस वक्त टॉप 100 टीमों की लिस्ट से बाहर है। भारतीय टीम की ताजा रैंकिंग 108 है।

भारतीय का हालिया प्रदर्शन भले ही जैसा भी हो लेकिन पूर्व कप्तान बायचूंग भूटिया टीम के कोच को और मौका दिए जाने की चाहत रखते हैं। भूटिया का मानना है कोच ने अभी टीम को बनाना और उसके खेल पर काम करना शुरू किया है इसलिए कोई फैसला लेना जल्दी होगी।

मुख्य कोच के तौर पर इगोर स्टिमक नौ में से सिर्फ एक मैच में भारतीय फुटबॉल टीम को जीत दिला सके हैं। आंक़़डे निराशाजनक हैं लेकिन भारतीय टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया का मानना है कि यह समय घबराने का नहीं है क्योंकि बेहतर परिणाम के लिए स्टिमक को और समय मिलना चाहिए।

स्टिमक के मार्गदर्शन में भारतीय टीम ने नौ मैचों में नौ गोल किए हैं, लेकिन 18 गोल खाए हैं। भूटिया ने कहा कि स्टिमक के मार्गदर्शन में भारतीय टीम के खेल के स्तर में सुधार आ रहा है और आने वाले समय में यह टीम दूसरी टीमों के लिए मुश्किल साबित होगी, ऐसे में आंक़़डों पर ध्यान देना उचित नहीं होगा।

मैं कोच के तौर पर उनके प्रदर्शन का आकलन करने वाला मैं कोई नहीं होता हूं। मैं आशा कर रहा हूं कि टीम अच्छा करना शुरू करेगी। यह टीम एक इकाई के तौर पर खेल रही है। कुछ मैच हमारे लिए दुर्भाग्यपूर्ण रहे, लेकिन इसके बावजूद मैं चिंता वाली कोई बात नहीं देख रहा हूं।'

भारतीय टीम अब तक क्वालीफायर में 5 मैच खेल चुकी है। इसमें से भारत ने 3 मैच ड्रॉ किए हैं और दो मैच गंवाया है। अब तक ओमान के खिलाफ खेले गए दोनों मुकाबलो में भारत को हार मिली है। कतर, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के खिलाफ भारत ने ड्रॉ खेला है। 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस