बार्सिलोना, एपी। बार्सिलोना ने स्पेनिश लीग ला लीगा में मालोर्का को 2-1 से हराकर अपने घरेलू मैदान कैंप नोउ में लगातार मिल रही हार का क्रम तोड़ा। मेंफिस डीपे और सर्गियो बसक्वेट्स के गोल की मदद से बार्सिलोना अंक तालिका में सेविया से आगे दूसरे स्थान पर पहुंचने में भी सफल रहा। बार्सिलोना की कैंप नोउ में लगातार तीन हार के बाद यह पहली जीत है। वह पांचवें स्थान की टीम रीयल बेटिस से नौ अंक आगे है और इस तरह से उसकी अगले सत्र के लिए चैंपियंस लीग में जगह सुरक्षित करने की संभावनाएं भी बढ़ गई हैं।

इससे पहले, बार्सिलोना के मेंफिस ने 25वें मिनट में जोर्डी एल्बा के पास पर गोल कर टीम को बढ़त दिलाई जो पहले हाफ तक बरकरार रही। इसके बाद दूसरे हाफ में सर्गियो ने 54वें मिनट में बाक्स के सेंटर से गोल कर बार्सिलोना की बढ़त को दोगुना किया। हालांकि, मार्लोका के लिए एंटोनियो जोस एरेनास ने साल्वा सेविला के पास पर 79वें मिनट में गोल कर बार्सिलोना की बढ़त कम करने की कोशिश की। लेकिन अंतिम सीटी बजने तक मार्लोका बढ़त या बराबरी हासिल नहीं कर सका।

फीफा ने लगाया सेनेगल पर जुर्माना

ज्यूरिख, एपी। फीफा ने विश्व कप प्लेआफ मैच के दौरान दर्शकों के बुरे बर्ताव और मिस्त्र के दिग्गज खिलाड़ी मुहम्मद सलाह के चेहरे पर लेजर लाइट मारने के लिए सेनेगल के फुटबाल महासंघ पर सोमवार को 1,80,000 डालर (लगभग 1.38 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया है।

इस मैच में सलाह जब पेनाल्टी पर किक मारने के लिए तैयार हुए तो दर्शकों ने उनके चेहरे पर हरे रंग के लेजर लाइट का इस्तेमाल किया। इससे उनका ध्यान भटका और गेंद गोल पोस्ट से टकरा गई और वह गोल करने से चूक गए। मार्च में खेले गए इस मैच में सलाह के लिवरपूल टीम के साथी सादियो माने ने निर्णायक स्पाट किक को गोल में बदलकर सेनेगल को जीत दिलाई थी। फीफा ने कहा कि उसकी अनुशासन समिति ने सेनेगल के प्रशंसकों द्वारा मैदान में उतरने, एक अमर्यादित बैनर और राष्ट्रीय महासंघ के स्टेडियम में कानून और व्यवस्था बनाए रखने में विफलता की जांच की थी। इसके साथ ही सेनेगल को भविष्य में अपना एक मैच खाली स्टेडियम में खेलने का आदेश दिया गया।

Edited By: Sanjay Savern