दोहा, एजेंसी। पांच बार के चैंपियन ब्राजील ने अंतिम-16 के मुकाबले में दक्षिण कोरिया को एकतरफा मुकाबले में 4-1 से हराया। 4-2-3-1 के फार्मेशन के साथ उतरी ब्राजील की टीम ने मैच शुरू होने के 40 मिनट के भीतर ब्राजील ने चार गोल दागकर मैच पर अपनी पकड़ बना ली। पहले हाफ में ही ब्राजील ने चार गोल दागकर मैच को एकतरफा कर दिया। हालांकि, दूसरे हाफ के अंतिम 15 मिनट में 4-4-2 के फार्मेशन के साथ खेल रहे दक्षिण कोरिया ने सांत्वना गोल किया, पर इससे परिणाम में कोई फर्क नहीं पड़ा।

मैच शुरू होने के 15 मिनट के भीतर विनिसियस जूनियर ने नेमार से मिले पास पर पहला और पेनाल्टी मिलने पर नेमार ने दूसरा गोल दागा। पूरे मैच में ब्राजील की टीम दक्षिण कोरिया पर हावी रही। दो मैच में चोट के कारण बाहर हुए नेमार ने इस विश्व कप का पहला गोल किया। उनके बाद रिचार्लिसन ने तीसरा और लुकास ने चौथा गोल दागकर दक्षिण कोरिया का मनोबल तोड़ दिया।

जानें दूसरे हाफ का खेल 

दूसरे हाफ में भी ब्राजील ने आक्रमण जारी रखा और कई प्रयास किए पर वह गोल नहीं कर सके। रिचार्लिसन दूसरा गोल भी दाग देते पर वह चूक गए। मैच के अंतिम 20 मिनट में दक्षिण कोरियाई टीम को जब महसूस हुआ कि अगर वह कुछ नहीं करेंगे तो उनका सफर यहीं थम जाएगा, तो वह आक्रामक हो गए। उन्होंने लगातार कई प्रयास किए और पाइक सिउंग हो ने गोल दाग दिया, लेकिन उनके एकमात्र गोल से परिणाम नहीं बदला और विश्व की नंबर एक टीम एक बार फिर क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई।पेले के नाम की जीतमैच जीतने के बाद ब्राजील की टीम ने दिग्गज फुटबालर पेले के नाम का बैनर लेकर यह जीत उन्हें समर्पित कर दी

पेले ने भी दी मैच से पहले दी थी ब्राजील टीम को शुभकामनाएं

पेले ने भी मैच से पूर्व ब्राजील टीम के लिए इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट डालकर टीम को शुभकामनाएं दी थीं। उन्होंने ब्राजील की राष्ट्रीय टीम का समर्थन करते हुए कहा था कि वह पूरा मैच अस्पताल से देखेंगे। वह पेट के कैंसर से जूझ रहे हैं, जिसके कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 82 वर्षीय पेले ने पोस्ट में कहा कि वह स्वीडन में 1958 के विश्व कप में ली गई एक तस्वीर साझा करके ब्राजील के खिलाडि़यों को प्रेरित करना चाहते हैं।

Edited By: Piyush Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट